Javed Akhtar फ़िल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी 'का पोस्टर देखकर हैरान हुए

  • 22 मार्च 2019
जावेद अख्तर इमेज कॉपीरइट AFP

बॉलीवुड के जाने-माने गीतकार जावेद अख़्तर ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने विवेक ओबरॉय अभिनीत फ़िल्म पीएम नरेंद्र मोदी के लिए कोई गाना नहीं लिखा है और फ़िल्म के ट्रेलर की क्रेडिट लाइन में अपना नाम देखकर वो हैरान हैं.

ये फ़िल्म प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राजनीतिक जीवन पर आधारित बताई जा रही है. हाल ही में होली के मौके पर इस फ़िल्म का ट्रेलर जारी किया गया था.

जावेद अख़्तर ने ट्वीट कर अपनी हैरानी जाहिर की है. फिल्म के पोस्टर में जावेद अख़्तर का नाम भी लिखा गया है, जबकि जावेद अख्तर का कहना है कि उन्होंने इस फिल्म में कोई योगदान नहीं दिया है.

जावेद अख़्तर ने फ़िल्म का पोस्टर शेयर कर ट्वीट किया, "मैं फ़िल्म के पोस्टर पर अपना नाम देखकर हैरान हूं. मैंने फ़िल्म के लिए कोई भी गाना नहीं लिखा है."

इस फ़िल्म की क्रेडिट लाइन में गीतकार के तौर पर जावेद अख्तर के अलावा, प्रसून जोशी, समीर, अभेंद्र कुमार उपाध्याय, सरदारा, पैरी जी और लवराज का नाम है.

जावेद अख़्तर की पत्नी और मशहूर अदाकारा शबाना आज़मी ने जावेद अख्तर के ट्वीट को रीट्वीट किया है.

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता उमंग कुमार के निर्देशन में बनी इस फ़िल्म में विवेक ओबरॉय मुख्य भूमिका में हैं. फ़िल्म में बोमन ईरानी, मनोज जोशी, ज़रीना वहाब और प्रशांत नारायण भी भूमिका निभा रहे हैं.

लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण की वोटिंग 11 अप्रैल को होनी है, लेकिन इससे पहले ही 'पीएम नरेंद्र मोदी' को रिलीज़ किया जाएगा. पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रिलीज की तारीख़ 12 अप्रैल बताई जा रही थी, लेकिन बाद में इसे 5 अप्रैल कर दिया गया.

क्या कह रहे हैं यूज़र?

जावेद अख़्तर के ट्वीट के बाद Javed Akhtar ट्विटर के टॉप ट्रेंड्स में शामिल हो गया.

वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने ट्वीट किया, "एक सी ग्रेड की इलेक्शन प्रौपेगेंडा फ़िल्म के गीत जावेद अख़्तर जैसे जाने-माने गीतकार के लिखने का दावा मानहानि है. ये भक्तों की हताशा दिखाता है."

@BrijGohil5 हैंडल से ट्वीट किया गया, "क्या आप बॉलीवुड या भारत में इकलौते जावेद अख़्तर हैं? उन पर सीधे आरोप मत लगाइए, पहले उन्हें सफाई तो देने दीजिए."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार