पीएम मोदी की पाकिस्तान को बधाई पर उठते सवाल

  • 23 मार्च 2019
नरेंद्र मोदी और इमरान ख़ान इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने पाकिस्तान दिवस के मौके पर ट्वीट करके बताया कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें पाकिस्तान दिवस की बधाई दी है.

उन्होंने पीएम मोदी से मिले संदेश का स्वागत किया. हालांकि, भारत सरकार की ओर से अभी तक अधिकारिक तौर पर इस संबंध में कोई जानकारी नहीं दी गई है.

इमरान ख़ान ने इसे लेकर दो ट्वीट किये थे. एक ट्वीट में उन्होंने ये बताया कि उन्हें पीएम मोदी से क्या संदेश मिला है.

उन्होंने ट्वीट में लिखा, "पीएम मोदी से संदेश मिला: 'पाकिस्तान के नेशनल डे के मौके पर मैं पाकिस्तान के लोगों को अपनी बधाइयां और शुभकामनाएं देता हूं. ये ऐसा वक़्त है जब उपमहाद्वीप के लोगों को चरमपंथ और हिंसा से मुक्त वातावरण में लोकतांत्रिक, शांतिपूर्ण, प्रगतिशील और समृद्ध क्षेत्र के लिए काम करना चाहिए'."

इसके बाद उन्होंने ट्वीट किया, "मैं हमारे लोगों को दिए गए पीएम मोदी के संदेश का स्वागत करता हूं. जैसे कि हम पाकिस्तान दिवस मना रहे हैं तो ये मौका सभी मुद्दों ख़ासकर कश्मीर के केंद्रीय मुद्दे को सुलझाने के लिए भारत के साथ समग्र बातचीत शुरू करने और हमारे लोगों की शांति और समृद्धि पर आधारित नए रिश्ते बनाने का है."

इमरान ख़ान के इस ट्वीट के बाद भारत में चर्चा शुरू हो गई. कुछ लोग इस बात की आलोचना करने लगे कि जहां एक तरफ़ भारत सरकार पाकिस्तान के उच्चायोग में पाकिस्तान दिवस के कार्यक्रम का बहिष्कार किया है और दूसरी तरफ उन्हें संदेश भेजा है.

इसे लेकर शुक्रवार की सुबह भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने जानकारी दी थी कि भारत का कोई प्रतिनिधि दिल्ली स्थित पाकिस्तान के उच्चायोग में होने वाले समारोह में हिस्सा नहीं लेगा.

एक यूज़र 'अशोक स्वैन' ने ट्वीट ​किया, "आप पाकिस्तान से मोदी को गंभीरता से लेने की उम्मीद कैसे करते हैं? मोदी ने इमरान ख़ान को पाकिस्तान दिवस की शुभकामनाएं दी हैं लेकिन पाकिस्तान उच्चायोग में पाकिस्तान दिवस के बहिष्कार का नाटक कर रहे हैं."

एक और यूजर 'नताशा शर्मा' ने ट्वीट किया, "मोदी भारतीयों को भ्रमित करते हैं कि हम पाकिस्तान दिवस का बहिष्कार कर रहे हैं. लेकिन, असलियत ये है कि इमरान ख़ान ने मोदी के प्रेम पत्र की जानकारी देकर उनके दोहरे व्यवहार को सबके सामने ला दिया है."

यूजर 'गौरव पांढी' ने लिखा है, "बेवकूफ बनाते पकड़े गए: पीएम मोदी चुपके से इमरान ख़ान को सेक्सिटिंग कर रहें हैं जबकि उनकी सरकार पाकिस्तान दिवस का बहिष्कार कर रही है. याद रखें, कि पीएम मोदी ने पुलवामा हमले के शहीदों को एक भी मैसेज भेजा है."

वहीं, एक यूजर 'मुर्तुज़ा सोलंगी' ने इमरान ख़ान को लेकर भी चुटकी ली. उन्होंने लिखा, "गणतंत्र दिवस पर विश्व के कई नेता हमारी सरकार को संदेश भेजते हैं लेकिन जैसे ही भारतीय प्रधानमंत्री का संदेश आया तो इमरान ख़ान खुशी से झूम उठे और कैंडी स्टोर में खड़े किसी बच्चे की तरह खुशी में पांच ट्वीट कर दिए."

यूजर 'बेजरोजगार अनुराग मिश्रा' ने लिखा है, "सिद्धू पाकिस्तान के साथ बातचीत की बात करते हैं. भक्त: राष्ट्रविरोधी, आतंकियों का हमदर्द, पाकिस्तान ही चला जा ना. मोदी पाकिस्तान को पाकिस्तान दिवस पर शुभकामनाएं देते हैं और बातचीत की बात करते हैं. भक्त: बहुत अच्छा कदम, ज़मीन से जुड़े हुए व्यक्ति हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार