वर्ल्डकप 2019: 'धोनी को रुलाया, आज गप्टिल भैया खुद रो रहे हैं' #SOCIAL

  • 15 जुलाई 2019
गुप्टिल और धोनी का रन आउट इमेज कॉपीरइट Getty Images

तारीख़ 10 जुलाई 2019. इंडिया वर्ल्डकप जीतने से दो कदम दूर था. भारत की क्रिकेट टीम न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ सेमी फ़ाइनल मैच खेल रही थी.

रविंद्र जडेजा के आउट होने के बाद सारी उम्मीदें महेंद्र सिंह धोनी पर आकर टिक गईं. बल्ले पर सही से न चढ़ी गेंद पर जब धोनी दो रनों के लिए दौड़े तो फाइन लेग पर खड़े गप्टिल ने विकेट पर सीधा थ्रो किया.

नतीजा- विकेट की लकीर से कुछ इंच की दूरी पर रहे धोनी रनआउट हो गए और भारतीय फैंस का वर्ल्डकप जीतने का सपना चकनाचूर हो गया.

न्यूज़ीलैंड की टीम फ़ाइनल में पहुंची और इंग्लैंड के सामने अच्छा खेल खेली. लेकिन पहले टाई के बाद जब सुपरओवर खेला गया, तब इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाज़ी कर न्यूज़ीलैंड के सामने 16 रनों का लक्ष्य रखा.

न्यूज़ीलैंड की ओर से गप्टिल और नीशम बल्लेबाज़ी करने उतरे. आख़िरी गेंद पर न्यूज़ीलैंड को जीत के लिए दो रन चाहिए थे. आख़िरी गेंद पर खेले शॉट में गप्टिल सिर्फ़ एक ही रन ले पाए और दूसरा रन लेते हुए वो रन आउट हो गए.

मैच एक बार फिर टाई हुआ और सबसे ज़्यादा बाउंड्री लगाने के आधार पर इंग्लैंड विश्व चैंपियन बन गया.

यानी अगर गप्टिल आख़िरी गेंद पर रन लेने में सफ़ल रहते तो आज 2019 का क्रिकेट चैंपियन न्यूज़ीलैंड हो सकता था.

इमेज कॉपीरइट AFP

गप्टिल का रन आउट और धोनी एंगल

यूं तो क्रिकेट के खेल को खेल की तरह ही देख जाना चाहिए. लेकिन कुछ क्रिकेट फैंस गप्टिल के आउट होने में 'कर्मों का फल' खोज रहे हैं.

इंग्लैंड के विश्व चैंपियन बनने के बाद ट्विटर पर #Karma टॉप ट्रेंड रहा.

सोशल मीडिया पर कुछ लोग लिख रहे हैं कि गप्टिल को अपने कर्मों की सज़ा मिली है, जैसे गप्टिल ने धोनी को रन आउट किया और भारतीयों का सपना टूटा. ठीक वैसे ही गप्टिल रन आउट हुए और न्यूज़ीलैंड का सपना टूट गया.

इमेज कॉपीरइट AFP

आगे पढ़िए सोशल मीडिया पर लोग क्या कुछ लिख रहे हैं?

कुणाल ने धोनी की एक फोटोशॉप तस्वीर शेयर करते हुए लिखा- इंग्लैंड बनाम न्यूज़ीलैंड मैच के दौरान धोनी यज्ञ करते हुए.

प्रतीक यादव ने ट्वीट किया, ''रन आउट होने के बाद धोनी रोए थे. अब न्यूज़ीलैंड रो रहा है. हमेशा धोनी फैन रहूंगा.''

संजय ने ट्वीट करके लिखा- जैसी करनी, वैसी भरनी. कर्मा रिटर्न्स.

निशांत पराशर ने लिखा, ''सिर्फ़ बेवकूफ़ लोग ही गप्टिल के रनआउट होने पर कर्म की बात कर सकते हैं. गप्टिल ने धोनी को आउट करके कुछ भी गलत नहीं किया था. गप्टिल ने अपनी टीम के लिए ऐसा किया था. हर कोई अपनी टीम को 100 फ़ीसदी देता है. फिर चाहे धोनी हों. गप्टिल हों. बटलर हों या बेन स्टोक.''

@GokulAdvik लिखते हैं- कर्म बूमरेंग की तरह काम कर रहा है, बहरहाल इंग्लैंड ने वर्ल्डकप जीता और न्यूज़ीलैंड ने दिल.

ट्विटर हैंडल @bole_to_jakash ने लिखा- इधर का इधर ही भुगतना पड़ता है.

जेपी ने लिखा, ''कर्म का इस मामले में कोई लेना-देना नहीं है.''

डॉ धीरज ने लिखा, ''आपने धोनी को रन आउट किया था. आज आपको उस रन आउट का एहसास हुआ होगा.''

प्रवीण ने लिखा, ''किस्मत देखिए उस दिन आपने धोनी को रुलाया था. आज गप्टिल भैया खुद रो रहे हैं.''

कपिल लिखते हैं, ''एक रन आउट की कीमत तुम जान ही गए होगे.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार