ब्रिटेन चुनाव: बोरिस जॉनसन के प्रचार के लिए हिंदी में बना वीडियो सॉन्ग वायरल #SOCIAL

  • 9 दिसंबर 2019
मोदी और बोरिस इमेज कॉपीरइट Getty Images

ब्रिटेन में 12 दिसंबर को चुनाव होने हैं और 13 दिसंबर को चुनावी नतीजे आने हैं.

बीते पांच सालों में ब्रिटेन में ये तीसरा आम चुनाव है. चुनाव की तारीख़ जैसे-जैसे क़रीब आ रही है, वैसे-वैसे प्रचार तेज़ हो रहा है.

2011 की जनगणना के मुताबिक़, ब्रिटेन की कुल आबादी क़रीब छह करोड़ है. इस आबादी में क़रीब 2.5 फ़ीसदी भारतीय हैं.

इस वजह से चुनावों में राजनीतिक पार्टियां ऐसे प्रचार कर रही हैं, जिससे ब्रिटेन में रहने वाले भारतीयों को लुभाया जा सके. इसी का ताज़ा उदाहरण है, कंज़र्वेटिव पार्टी के भारतीय उम्मीदवार और पूर्व सांसद शैलेस वारा का ट्वीट किया वीडियो.

इस वीडियो में हिंदी गीत सुनाई देता है, जिसमें बोरिस जॉनसन को जिताने और लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कॉर्बिन के विरोध में कई बातें सुनाई देती हैं.

वीडियो में पीएम नरेंद्र मोदी के साथ बोरिस जॉनसन की तस्वीरें भी दिखाई देती हैं. गीत के बोल कुछ यूं हैं:

  • ''जागो...जागो...जागो
  • चुनाव फिर से आया है बोरिस को हमें जिताना है
  • इस देश को आज बचाना है
  • कुछ करके हमें दिखाना है...''
इमेज कॉपीरइट Getty Images

वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

प्रचार का ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है और भारत में कुछ लोग इस वीडियो पर अपनी प्रतिक्रियाएँ दे रहे हैं.

हालांकि इस वीडियो को बोरिस जॉनसन या कंज़र्वेटिव पार्टी के ऑफिशियल हैंडल से आधिकारिक तौर पर शेयर नहीं किया गया है. लेकिन यह साफ़ नहीं है कि वीडियो किसने बनाया है.

शंभु घटक ने लिखा, ''बोरिस जॉनसन का प्रचार गीत किसी लोकल स्टूडियो में बनाया गया है ताकि स्थानीय कलाकारों के लिए नौकरियां पैदा की जा सकें.''

सिद्दाक़ आहूजा लिखते हैं, ''कंज़र्वेटिव पार्टी ने बॉलीवुड जैसा गाना बनाया है. ये विज्ञापन इतना ख़राब है कि आप इसे देखकर बोरिस जॉनसन को वोट नहीं करेंगे.''

प्रफुल्ल केतकत ने ट्वीट किया, ''बोरिस जॉनसन का ये हिंदी वीडियो ग़ज़ब क्रिएटिव है. ये एक बार फिर बताता है कि भारतीय जहां कहीं भी रहें वो चुनावों को ख़ूब पसंद करते हैं.''

फारूक़ यूसुफ़ ने लिखा- बोरिस जॉनसन का हिंदी अभियान काफ़ी मज़ाकिया है, ख़ासतौर पर बोरिस का हिंदी उच्चारण.

इमेज कॉपीरइट fb/borisJohnson
Image caption बोरिस जॉनसन चुनाव प्रचार के दौरान सिख समुदाय के लोगों से मिलते हुए

बोरिस जॉनसन का मंदिर-गुरुद्वारा कनेक्शन...

ब्रिटेन चुनावों में भारतीयों से जुड़ा एक और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

इस वीडियो में एक शख़्स मंदिर में लोगों से लेबर पार्टी के ख़िलाफ़ कई बातें कहते नज़र आते हैं. वो कहते हैं, ''लेबर पार्टी के जेरेमी एंटी-मोदी, एंटी इंडिया हैं. लेबर पार्टी के आने पर हिंदू और सिख सुरक्षित नहीं रहेंगे.''

ये वीडियो कब का है और ये मंदिर कहां पर है, इस बारे में कोई पुष्ट जानकारी नहीं है.

बोरिस जॉनसन कई मौक़ों पर मंदिर और गुरुद्वारे भी जाते रहे हैं.

हालांकि, 2017 में जब बोरिस जॉनसन विदेश मंत्री थे, तब एक बार गुरुद्वारे में जाने पर उन्हें सिखों की नाराज़गी भी झेलनी पड़ी थी.

चुनावी प्रचार के दौरान तब गुरुद्वारे में बोरिस ने कहा था, ''जब भी ब्रिटेन से भारत के लोग लौटते हैं तो अपने साथ ड्यूटी फ्री व्हिस्की की बोतल ज़रूर ले जाते हैं क्योंकि भारत में स्कॉच व्हिस्की पर 150 फ़ीसदी ड्यूटी लगती है. कंज़र्वेटिव पार्टी की सरकार आई तो भारत के लोग व्हिस्की का लुत्फ़ उठा सकेंगे क्योंकि मुक्त व्यापार के प्रावधानों के तहत स्कॉच पर ब्रिटेन इम्पोर्ट ड्यूटी नहीं लगाएगा."

तभी एक सिख महिला ने आपत्ति दर्ज की, "ये बहुत ही बुरी बात है कि बोरिस जॉनसन गुरुद्वारे में आकर शराब को बढ़ावा देने वाली बातें कर रहे हैं." बोरिस ये सुनकर चुप हो जाते हैं.

बोरिस जॉनसन की पत्नी मरीना व्हीलर हैं जिनके पिता अंग्रेज़ हैं और माँ दीप सिंह, जो भारतीय मूल की सिख महिला हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption इसराइल में चुनाव प्रचार के दौरान एक इमारत पर मोदी और ट्रंप के साथ बेन्यामिन नेतन्याहू की तस्वीर

विदेशों के चुनावों का भारतीय कनेक्शन

ये पहला मौक़ा नहीं है, जब किसी देश के चुनावों में भारत की चर्चा हो रही हो.

इससे पहले इसराइल के चुनावों में प्रचार के लिए बेन्यामिन नेतन्याहू ने भी पीएम नरेंद्र मोदी और कई राष्ट्र प्रमुखों की तस्वीरें इस्तेमाल की थीं.

अमरीकी चुनावों के दौरान भी एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें डोनल्ड ट्रंप 'आई लव हिंदू' कहते दिखे थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार