'ड्रोन हमले में दस चरमपंथी मारे गए'

अमरीकी ड्रोन
Image caption इस इलाक़े में पिछले साल अगस्त से अबतक क़रीब 35 ड्रोन हमले हुए हैं

ख़ुफ़िया अधिकारियों के मुताबिक़ पाकिस्तान के वज़ीरिस्तानमें एक संदिग्ध तालेबान ठिकाने पर अमरीकी ड्रोन हमले में दस चरमपंथी मारे गएहैं.

जिस जगह हमला किया गया वह इलाक़ा पाकिस्तान-अफ़ग़ानिस्तान सीमाके पास है और वह तालेबान नेता बैतुल्ला महसूद के प्रभाव वाला है.

एक अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर बताया कि इस हमले में कुछलोग घायल भी हुए हैं.

इस इलाक़े में पिछले साल से अगस्त से अब तकक़रीब 35 ड्रोन हमले हुए हैं. ऐसा अनुमान है कि इन हमलों में 340 लोगों की मौत हुईहै.

सबसे अधिक ड्रोन हमले उत्तरी और दक्षिणी वज़ीरिस्तान इलाक़े मेंहुए हैं.

पाकिस्तान ने इन हमलों की सार्वजनिक तौर पर निंदा की है और कहाहै कि इसमें आम लोगों की जान जाती है और इससे तालेबान चरमपंथियों को बढ़ावा मिलताहै.

अमरीकी सेना ने कभी भी इन ड्रोन हमलों की ज़िम्मेदारी नहीं लीहै लेकिन ऐसा माना जाता है कि अफ़ग़ानिस्तान में सक्रिय सशस्त्र सेनाएँ और संघीयजाँच एजेंसी (सीआईए) ही इस तरह के हमले करने में सक्षम हैं.

इस साल मार्च में अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा था किउनकी सरकार ड्रोन हमलों को लेकर पाकिस्तान से विचार-विमर्श करेगी.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है