'बिन लादेन का बेटा मारा गया'

ओसामा बिन लादेन
Image caption ये पता नहीं कि हमले के समय ओसामा भी वहीं था .

अमरीकी ख़ुफ़िया एजेंसी के एक अधिकारी ने संभावना जताई है कि इसी साल शुरु में पाकिस्तान में हुए अमरीकी मिसाइल हमले में ओसामा बिन लादेन का एक बेटा मारा गया होगा.

उस अधिकारी ने एक अमरीकी रेडियो स्टेशन से कहा, "ख़ुफ़िया एजेंट अस्सी से 85 फ़ीसदी आश्वस्त हैं कि साद बिन लादेन जीवित नहीं रहा लेकिन शव मिले बिना इसे सुनिश्चित नहीं किया जा सकता."

उनका कहना था कि हमला लादेन के बेटे साद बिन लादेन को निशाना बनाकर नहीं किया गया था और संयोग से 'वह ग़लत समय पर ग़लत जगह पर था.'

ख़ुफ़िया अधिकारी के मुताबिक लादेन का बेटा अल क़ायदा में सक्रिय तो है पर कोई बड़ी ज़िम्मेदारी उनके पास नहीं है.

उन्होंने कहा, "बस हम उसके नाम के आख़िरी शब्द के आधार पर हौव्वा बना रहे हैं."

साद बिन लादेन की उम्र 25 से 30 साल के बीच थी और वो ओसामा के तीसरे बेटे थे. ख़ुफ़िया अधिकारियों का मानना है कि ईरान में कई वर्षों तक नज़रबंदी झेलने के बाद वो भाग कर पाकिस्तान आ गए.

ख़ुफ़िया अधिकारी ने रेडियो चैनल को बताया कि साद बिन लादेन अमरीकी ड्रोन हमले में मारा गया होगा. उन्होंने कहा कि हमला इसी साल हुआ लेकिन किस महीने और कब ये उन्होंने नहीं बताया.

ये पता नहीं है कि हमले के वक़्त साद लादेन अपने पिता के साथ था या नहीं. माना जा रहा है कि ओसामा बिन लादेन अफ़ग़ानिस्तान- पाकिस्तान सीमा पर दुर्गम इलाक़े में छिपे हुए हैं.

संबंधित समाचार