तालेबान की चुनाव बहिष्कार की अपील

  • 31 जुलाई 2009
तालेबान
Image caption तालेबान ने अफ़ग़ानिस्तान के चुनावों के बहिष्कार की अपील की है

तालेबान ने अफ़ग़ानिस्तान के लोगों से आगामी राष्ट्रपति और प्रांतीय चुनावों के बहिष्कार की अपील की है.

तालेबान समर्थित एक वेबसाइट पर जारी बयान में लड़ाकों से चुनावों से पहले सड़कों पर बाधा खड़ी करने और मतदाताओं को मतदान केंद्रों पर न जाने देने को कहा है.

बयान में कहा गया है कि मतदान में हिस्सा लेने का मतलब होगा अमरीका की मदद करना.

उल्लेखनीय है कि अफ़ग़ानिस्तान में चुनाव से पहले हिंसा में वृद्धि हुई है और सुरक्षा की स्थिति गंभीर हो गई है.

बीबीसी संवाददाता बिलाल सरवरी का कहना है कि 20 अगस्त को चुनाव होने हैं और ये अब तक की सबसे गंभीर चेतावनी मानी जा रही है.

तालेबान हमेशा से कहते आए हैं कि विदेशी सेनाओं को अफ़ग़ानिस्तान से चले जाना चाहिए और उन्होंने पहले भी चुनाव बहिष्कार की अपील की है.

बयान में कहा गया है,'' इसे कैसे अफ़ग़ानिस्तान का चुनाव कहा जा सकता है...इसकी योजना अमरीकियों ने बनाई है और इसके लिए धन भी उन्होंने दिया है.''

इसमें कहा गया है कि लोगों को अफ़ग़ानिस्तान को मुक्त कराने के लिए जेहाद छेड़नी होगी.

पिछले सप्ताह ही अफ़ग़ानिस्तान चुनाव अभियान के दौरान दो हमले हुए थे.

अफ़ग़ानिस्तान में 20 अगस्त को होनेवाले चुनाव के लिए सुरक्षा के कड़े इंतज़ाम किए गए हैं.

इन चुनावों में हामिद करज़ई दोबारा राष्ट्रपति चुने जाने की उम्मीद कर रहे हैं.

संबंधित समाचार