सुनवाई अनिश्चितकाल के लिए टली

Image caption भारत हाफ़िज़ सईद की गिरफ़्तारी की माँग करता आया है

पाकिस्तान में जमात उद दावा के प्रमुख हाफ़िज़ मोहम्मद सईद के मामले की सुनवाई कोर्ट ने अनिश्चितकाल के लिए टाल दी है.

मामले की सुनवाई पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट में चल रही है. बीबीसी संवाददाता शहज़ाद मलिक के मुताबिक सरकार ने कहा है कि उसे मामले में अभी और वक़्त चाहिए.

हाफ़िज़ मोहम्मद सईद के वकील के मुताबिक गृह मंत्री रहमान मलिक कह चुके हैं कि इस बात का कोई सुबूत नहीं है कि हाफ़िज़ मुंबई हमलों में शामिल थे.

उनके वकील ने कहा कि हाफ़िज़ सईद अब 'आज़ाद व्यक्ति' हैं.

भारत की माँग रही है कि हाफ़िज़ मोहम्मद सईद को मुंबई हमलों के सिलसिले में गिरफ़्तार किया जाए.

भारत की आपत्ति

अभी कुछ दिन पहले ही भारत ने मुंबई हमलों के सिलसिले में पाकिस्तान को और सुबूत सौंपे हैं. सुबूतों का चौथा दस्तावेज़ (डॉसियर) शनिवार को भारत ने पाकिस्तानी दूतावास के हवाले किया था.

भारत के गृह मंत्री पी चिदंबरम ने कहा था कि पाकिस्तान को हाफ़िज़ मोहम्मद सईद के ख़िलाफ़ पुख़्ता सबूत सौंप दिए हैं ताकि उन पर मुक़दमा चलाया जा सके.

मुंबई हमलों के बाद लश्कर के संस्थापक हाफ़िज़ मोहम्मद सईद को नज़रबंद किया गया था और जमात-उद-दावा पर पाबंदी भी लगाई गई थी.लेकिन लाहौर हाई कोर्ट ने सबूतों के अभाव में सईद की नज़रबंदी ख़त्म कर दी थी.

11 जुलाई को भी भारत ने पाकिस्तान को जाँच को आगे बढ़ाने के लिए 34 पन्नों का दस्तावेज़ सौंपा था.

संबंधित समाचार