अब्दुल्ला अब्दुल्ला

अब्दुल्ला अब्दुल्ला अफ़गानिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव के लिए उम्मीदवार हैं और पूर्व विदेश मंत्री हैं.

1960 में जन्मे अब्दुल्ला अब्दुल्ला का संबंध जनजातीय ताजिक समुदाय से है. पेशे से डॉक्टर रहे अब्दुल्ला अब्दुल्ला ने पाकिस्तान में कुछ समय शरणार्थियों के साथ काम किया.

अस्सी के दशक में वे ताजिक समुदाय के नेता अहमद शाह मसूद के साथ जुड़ गए. 1995 में जब कुछ समय के लिए अफ़ग़ानिस्तान में नॉर्दन एलायंस का शासन था तो वे विदेश मंत्री बने.

फिर तालेबान के आने के बाद भी वे 'निर्वासन में काम कर रहे विदेश मंत्री' के तौर पर जाने जाते रहे.

जब नॉर्दन एलायंस अफ़ग़ानिस्तान में तालेबान के ख़िलाफ़ संघर्ष कर रहा था तो डॉक्टर अब्दुल्ला ने विदेश में रहकर राजनीतिक और आर्थिक मदद जुटाई.

तालेबान को सत्ता से निकाले जाने के बाद जब हामिद करज़ई प्रधानमंत्री बने तो उन्हें विदेश मंत्री बनाया गया. नॉर्दन एलायंस के नेता जनरल मसूद की हत्या के बाद वे गुट के तीन अहम नेताओं में से एक बनकर उभरे.

2001 में तालेबान के जाने के बाद जब नई सरकार बनी थी तो उसमें नॉर्दन एलायंस के सदस्य ज़्यादा थे जिसे करज़ई बदलना चाहते थे. 2006 में उन्हें कैबिनेट से हटा दिया गया था.

नॉर्दन एलायंस में उनका अपना मज़बूत आधार नहीं था और यही वजह है कि करज़ई सरकार में नॉर्दन एलायंस के नेता होते हुए भी वे इतने दिन टिक पाए. लेकिन शायद इसी वजह से वे ज़्यादा देर विदेश मंत्री नहीं रह सके.

संबंधित समाचार