अफ़ग़ानिस्तान चुनाव: लोगों की राय

मीडिया प्लेयर

इस ऑडियो/वीडियो के लिए आपको फ़्लैश प्लेयर के नए संस्करण की ज़रुरत है

किसी और ऑडियो/वीडियो प्लेयर में चलाएँ

अफ़ग़ानिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव में कुछ ही दिन रह गए हैं. दुनिया की तो नज़रें इन चुनाव पर हैं ही स्थानीय लोग भी काफ़ी बेसब्री से इन चुनाव पर नज़रें लगाए हैं.

मौजूदा राष्ट्रपति हामिद करज़ई का कड़ा मुक़ाबला माना जा रहा है पूर्व विदेश मंत्री अब्दुल्ला अब्दुल्ला और पूर्व वित्त मंत्री अशरफ़ ग़नी से.

तालेबान विद्रोहियों ने लोगों से कहा है कि वे इन चुनाव का बहिष्कार करें और उन्होंने धमकी भी दी है कि वे चुनाव केंद्रों को निशाना बनाएँगे.

अमरीका और नैटो के सहयोगी देश सीधे तौर पर चुनाव में कोई हस्तक्षेप नहीं कर रहे हैं मगर उत्सुकता उनमें भी है.

बीबीसी संवाददाता रेणू अगाल इन चुनाव की ख़बरें पहुँचाने अफ़ग़ानिस्तान पहुँची हैं और वहीं उन्होंने बात की कुछ लोगों से.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.