बैतुल्ला महसूद के 'मारे जाने की पुष्टि'

  • 18 अगस्त 2009
बैतुल्ला महसूद
Image caption बैतुल्ला महसूद के इस महीने की शुरुआत में एक अमरीकी ड्रोन हमले में मारे जाने की ख़बर थी

पाकिस्तान में अधिकारियों का कहना है कि पाकिस्तानी तालेबान के पकड़े गए प्रवक्ता मौलवी उमर ने गुट के नेता बैतुल्ला महसूद के मारे जाने की पुष्टि की है.

उनके अनुसार मौलवी उमर ने पूछताछ के दौरान माना कि महसूद की इस महीने की शुरुआत में एक अमरीकी ड्रोन हमले में मौत हो गई है.

तालेबान अब तक इस बारे में अमरीकी और पाकिस्तानी दावों को ख़ारिज करते रहे हैं.

फ़ाटा इलाके के वरिष्ठ अधिकारियों ने बीबीसी को बताया की मोहमंद इलाके की अमन कमेटी के सदस्यों ने मौलवी उमर को तब पक़ड़ा जब वो खैबर एजेंसी से बाजौड़ एजेंसी की ओर जा रहे थे. बाद में अमन कमेटी ने मौलवी उमर को पाकिस्तानी सुरक्षा बलों के हवाले कर दिया.

पाकिस्तान प्रशासन ने पश्चिमोत्तर कबाइली इलाकों में तालेबान और अल क़ायदा का मुकाबला करने के लिए स्थानीय लोगों को शामिल करने के लिए अमन कमेटियों का गठन किया था जिसके तहत स्थानीय लोगों को प्रशासन की तरफ़ से हथियार और प्रशिक्षण दिया जाता है.

पिछले कुछ सालों में बलूचिस्तान और सरहद प्रांत में कई जगहों पर स्थानीय लोगों और तालेबान के बीच संघर्ष की कई वारदातें हुई हैं.

बड़ी उपलब्धि

Image caption पेशावर में हिरासत में लिए जाने के बाद मौलवी उमर की तस्वीर

मौलवी उमर की ग़िरफ़्तारी पाकिस्तान प्रशासन के लिए सीमावर्ती इलाकों में एक बड़ी उपलब्धि बताई जा रही है.

मौलवी उमर ना सिर्फ़ पाकिस्तान के तहरीके तालेबान के एक बड़े नेता हैं बल्कि प्रेक्षकों को मानना है कि सुरक्षा बलों को उनसे तहरीके तालेबान के बारे में काफ़ी महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है.

हाल मे तहरीके तालेबान के प्रमुख बैतुल्ला महसूद के अमरीकी मिसाइल हमले में मारे जाने की ख़बर की पाकिस्तान सरकार ने पुष्टि ज़रूर की थी मगर साथ ही यह भी कहा था कि इसके पुख्ता सबूत उसे नहीं मिल पाए हैं.

इस ख़बर के बाद महसूद की जगह लेने के लिए तहरीके तालेबान के वरिष्ठ नेताओं में संघर्ष की भी ख़बरें आई थीं.

मौलवी उमर पिछले चौबीस घंटों में गिरफ़्तार होने वाले दूसरे प्रमुख तालेबान नेता हैं.

इससे पहले हरकत जिहाद-ए-इस्लामी से जुड़े एक कमांडर क़ारी सैफ़ुल्ला को भी अधिकारियों ने इस्लामाबाद के एक निजी अस्पताल में इलाज कराते समय गिरफ़्तार कर लिया था. वह एक मिसाइल हमले में घायल हुए थे.

इन दोनों से अफ़ग़ानिस्तान और पाकिस्तान में चरमपंथी हमलों में संदिग्ध भूमिका को लेकर पूछताछ की जाएगी.

संबंधित समाचार