करज़ई की बढ़त में इज़ाफ़ा

मतपेटियाँ
Image caption चुनाव में धांधली की शिकायतों की जाँच की जा रही है

अफ़ग़ानिस्तान में पिछले हफ़्ते हुए राष्ट्रपति चुनाव के और नतीजे घोषित किए गए हैं और इसके बाद वर्तमान राष्ट्रपति हामिद करज़ई की बढ़त में और इज़ाफ़ा हुआ है.

निर्वाचन अधिकारियों का कहना है कि अब तक 17 प्रतिशत मतों की गणना हो चुकी है और इसमें से 41 प्रतिशत मत हामिद करज़ई को और 35 प्रतिशत मत उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी अब्दुल्ला अब्दुल्ला को मिले हैं.

फिर से चुनाव टालने के लिए ज़रुरी है कि किसी एक उम्मीदवार को 50 प्रतिशत से अधिक मत मिलें.

वहाँ मतों की गणना के साथ ही साथ नतीजे घोषित किए जा रहे हैं और अंतिम नतीजे सितंबर में आने की संभावना है.

शुरुआती नतीजे

अधिकारियों का कहना है कि बुधवार तक 9,40,000 मतों की गिनती हो चुकी थी जिसमें से 4,22,000 मत हामिद करज़ई को और 3,30,000 मत अब्दुल्ला अब्दुल्ला को मिले हैं.

Image caption दोनों खेमों ने जीत के दावे किए हैं

1,08,000 मतों के साथ रमज़ान बशरदोस्त तीसरे स्थान पर और 28,000 मतों के साथ अशरफ़ ग़नी चौथे स्थान पर चल रहे हैं.

काबुल में बीबीसी के संवाददाता इयान पैनेल का कहना है कि अब तक जितने मतों की गिनती हुई है वह बहुत छोटा हिस्सा है और तस्वीर साफ़ होने में थोड़ा समय लगेगा.

विश्लेषकों का कहना है कि आरंभिक नतीजों के आधार पर जो भी दावे प्रतिदावे हो रहे हैं उन्हें चुनाव में धांधली की शिकायतों, भ्रष्टाचार और देश के दक्षिणी हिस्से में हुए कम मतदान की रोशनी में भी देखना होगा.

निर्वाचन अधिकारी इस तरह की एक हज़ार शिकायतों की जाँच कर रहे हैं, जिनमें से कोई 50 गंभीर शिकायतें हैं.

कुछ लोगों को लगता है कि पश्चिमी देशों के नेताओं ने राष्ट्रपति के चुनावों को सफल घोषित करने में थोड़ी जल्दबाज़ी दिखा दी.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है