आत्मघाती हमले में 21 मरे

हमले में घायल व्यक्ति
Image caption घायलों को पेशावर के अस्पताल ले जाया जा रहा है

अधिकारियों का कहना है कि पाकिस्तान अफ़ग़ानिस्तान सीमा के पास हुए एक बम हमले में कम से कम 21 लोग मारे गए हैं और कई अन्य घायल हुए हैं.

पाकिस्तान की ख़ैबर एजेंसी में तोरखम स्थित एक क़बायली पुलिस चेक पॉइंट पर ये हमला हुआ.

स्थानीय पुलिस का कहना है कि ये हमला सूर्यास्त के वक्त हुआ जब रोज़ा ख़त्म करने का समय हो रहा था.

पाकिस्तान के उत्तर पश्चिमी सीमांत प्रान्त को अफ़ग़ानिस्तान से स्वायत्त क्षेत्र, ख़ैबर एजेंसी जोड़ता है. मशहूर ख़ैबर दर्रे की रक्षा का काम यहाँ की पुलिस करती है. ये दर्रा पाकिस्तान के इस्लामाबाद और पेशावर शहरों को अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल से व्यापार के लिए जोड़ने का काम करता है.

और तोरखम सीमा चौकी यहाँ की मुख्य चौकी है.

इससे पहले भी छापामारों ने यहाँ कई हमले किये हैं और नैटो के काफ़िले, पाकिस्तान सेना के गश्ती दलों, स्थानीय कबीलाई नेता और सुरक्षा चेक पोस्टों को निशाना बनाया है.

अगस्त में तालेबान नेता बैतुल्लाह महसूद के एक अमरीकी ड्रोन हमले में मारे जाने के बाद यह पहला बड़ा हमला है.

आँखों देखी

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि आत्मघाती हमलावर पुलिस स्टेशन पहुँचा और रोज़े के बाद सजी इफ्तार की मेज़ के पास आ कर उसने अपने आप को उड़ा दिया. पड़ोस के प्रशासनिक दफ्तर में काम कर रहे अली रज़ा ने असोसिएटेड प्रेस को बताया की उसने एक बड़ा धमाका सुना.

‘‘हम भाग के वह पहुंचे तो हर तरफ़ तबाही का नज़ारा था और मैंने घायलों को अस्पताल ले जाने में मदद की.’’ कई घायलों ने बताया कि उन्होने एक कम उम्र के लड़के को सुरक्षा कर्मियों के लिए जग भर के पानी ले जाते देखा था, पर इसकी पुष्टि नहीं की जा सकी कि वही लड़का हमलावर था.

ये हमला दक्षिण वज़ीरिस्तान में हुए एक ड्रोन हमले के कुछ घंटों बाद हुआ.

उस हमले में चार लोग मारे गए थे.

संबंधित समाचार