मुंबई हमले: संदिग्धों पर आरोप तय

  • 11 अक्तूबर 2009
ज़कीउर रहमान लखवी
Image caption भारत लखवी को मुंबई हमलों का मुख्य सूत्रधार मानता है.

पाकिस्तान में गिरफ़्तार किए गए मुंबई हमले के सात संदिग्धों के ख़िलाफ़ वहां की आतंकवाद निरोधक अदालत ने आरोप तय कर दिए हैं.

इनके ख़िलाफ़ रावलपिंडी के अदिलाला जेल में ही अदालत ने आरोप तय किए.

हालाँकि बचाव पक्ष के वकील ने अदालत पर क़ानून का माखौल उड़ाने का आरोप लगाया और कहा कि वह मामले को किसी और अदालत में स्थानांतरित करने की माँग कर सकते हैं.

इस मामले की अगली सुनवाई 17 अक्तूबर को होगी.

इन सातों में ज़कीउर रहमान लखवी और ज़रार शाह शामिल हैं जिनके बारे में भारत का कहना है कि उन्होंने मुंबई हमलों का षडयंत्र रचने में मुख्य भूमिका निभाई थी.

ये स्पष्ट नहीं हुआ है कि अदालत ने उनके ख़िलाफ़ क्या-क्या आरोप लगाए हैं.

पाकिस्तान की फेडरल जाँच एजेंसी ने सातों के ख़िलाफ़ कई आरोप पत्र दाख़िल किए थे. मुंबई हमलों की पाकिस्तान में जाँच की ज़िम्मेदारी इसी एजेंसी के हवाले है.

आरोप तय होने से पहले ही सातों संदिग्धों के वकील कोर्ट रूम से बाहर चले गए. कहा जा रहा है कि जज ने उन्हें बाहर जाने को कहा था.

बचाव पक्ष की ओर से वरिष्ठ वकील ख्वाजा सुल्तान ने भारतीय अख़बार द हिंदू को बताया कि अपने वकीलों की अनुपस्थिति में सातों अभियुक्तों ने अपने ऊपर लगाए गए आरोपों पर हस्ताक्षर करने से मना कर दिया.

संबंधित समाचार