बारुदी सुरंग में धमाका, दस सैनिक मरे

  • 11 नवंबर 2009
पाकिस्तानी सेना
Image caption तालेबान और पाकिस्तानी सेना के बीच अक्सर झड़पें हो रही हैं.

पाकिस्तान के उत्तर पश्चिम में अफ़गानिस्तान से लगी सीमा पर बारुदी सुरंग में हुए विस्फ़ोट में कम से कम आठ सैनिक मारे गए हैं.

मोहमंद ज़िले में हुए इन हमलों की ज़िम्मेदारी तालेबान ने ली है.

पाकिस्तान के दक्षिणी वज़ीरिस्तान में तालेबान के ख़िलाफ़ अभियान जारी रखा है और इसी दौरान ये मौतें हुई हैं.

सेना का कहना है कि अब वह प्रांत के 80 प्रतिशत हिस्से पर नियंत्रण कर चुकी है.

सैन्य प्रवक्ता मेजर फ़ज़ल उर्र रहमान ने एएफपी संवाद समिति से कहा कि यह धमाका उस समय हुआ जब सैनिक एक गाड़ी में गश्त लगा रहे थे.

मोहमंद ज़िले में पिछले कुछ महीनों में तालेबान और पाकिस्तानी सुरक्षा बलों के बीच झड़पें होती रही हैं.

बीबीसी संवाददाता शोएब सैयद हसन का कहना है कि दक्षिणी वज़ीरिस्तान में सेना को काफ़ी कम नुकसान हुआ है.

इससे पहले सेना के एक अभियान में मोहमंद ज़िले में ही दस चरमपंथी मारे गए हैं. इस घटना के तुरंत बाद चरमपंथियों ने एक सुरक्षा नाके पर हमला किया जिसमें दो सैनिक मारे गए.

चेक नाके पर इस हादसे के बाद दस सैनिक लापता भी बताए जाते हैं.

उधर पेशावर के उत्तर पूर्व में चरसड़ा में मंगलवार को हुए बम धमाके के बाद तीन दिन की हड़ताल हो रही है.

अधिकारियों का कहना है कि चरसड़ा के इस हमले का निशाना ज़िले के पुलिस प्रमुख थे. इस विस्फोट में 70 लोग घायल भी हुए थे.

संबंधित समाचार