श्रीलंका सैन्य प्रमुख का इस्तीफ़ा

  • 12 नवंबर 2009
Image caption जनरल फोनसेका अगले साल होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के उम्मीदवार बन सकते हैं.

श्रीलंका के विपक्षी नेताओं और एक अधिकारी का कहना है कि वहां की सेनाओं के प्रमुख सरथ फ़ोनसेका ने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया है.

जनरल सरथ फ़ोनसेका ने तमिल छापामार गुट लिट्टे के ख़िलाफ़ एक कामयाब कार्रवाई का नेतृत्व किया था.

श्रीलंका की यूनाईटेड नैशनल पार्टी के एक वरिष्ठ सदस्य रवि करूणानायके ने बीबीसी को बताया कि जनरल फ़ोनसेका ने राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे को अपनी त्यागपत्र सौंप दिया है.

एक दूसरे राजनीतिक सूत्र ने बीबीसी को बताया कि त्यागपत्र को फ़ौरन स्वीकार कर लिया गया है.

उम्मीदवार

श्रीलंका का विपक्षी गठबंधन पिछले कुछ समय से जनरल फ़ोनसेका को अगले चुनाव में महिंदा राजपक्षे के ख़िलाफ़ राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाने के लिए बातचीत करता रहा है.

चुनाव अगले अप्रैल में होने हैं.

श्रीलंका की फ़ौज के प्रवक्ता का कहना है कि उन्हें इस्तीफ़े के बारे में कोई जानकारी नहीं है.

पिछले कुछ समय से इस बात की अफ़वाहें गर्म रही हैं कि जनरल फ़ोनसेका और देश के प्रमुख राजनेताओं के बीच मतभेद पैदा हो गए हैं लेकिन सरकार इस बात का खंडन करती रही है.

लिट्टे के ख़िलाफ़ श्रीलंकाई सेना को जीत दिलाने के दो महीने बात ही जनरल फ़ोनसेका को सेना प्रमुख से तीनों सेनाओं के प्रमुख के पद पर पदोन्नत किया गया था.

लेकिन इस पद के बारे में कहा जाता है कि ये एक प्रतीकात्मक पद था और बहुत लोगों का मानना है कि जनरल फ़ोनसेका इस पदोन्नति से नाखुश थे.

संबंधित समाचार