आईएसआई दफ़्तर पर हमला, 12 मरे

  • 13 नवंबर 2009
पेशावर (फ़ाइल फोटो)
Image caption पेशावर में बम हमलों की संख्या बढ़ी है

पाकिस्तान में सुरक्षाकर्मियों को निशाना बनाकर किए गए दो आत्मघाती हमलों में कम से कम 17 लोगों की मौत हो गई है.

पहला कार बम हमला सूबा सरहद के पेशावर शहर में ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई के दफ़्तर पर हुआ.

इस धमाके में आईएसआई के दफ़्तर की इमारत को काफ़ी नुक़सान पहुँचा है. इस धमाके में 12 लोगों की मौत हुई है और 30 घायल हैं.

सूबा सरहद के एक अन्य शहर बन्नू में भी एक आत्मघाती हमला हुआ है. एक पुलिस स्टेशन पर हुए कार बम हमले में कम से कम पाँच पुलिस अधिकारी मारे गए हैं.

पेशावर में हुए कार बम धमाके में पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई की इमारत को काफ़ी नुक़सान पहुँचा है.

धमाका स्थानीय समय के मुताबिक़ सुबह पौने सात बजे हुआ.धमाका इतना ज़बरदस्त था कि आसपास की कई इमारतें हिल गईं और धमाके की आवाज़ दूर तक सुनी गई.

नुक़सान

आईएसआई के दफ़्तर की तीन मंज़िला दफ़्तर को काफ़ी नुक़सान पहुँचा. घायलों को स्थानीय अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.

इमारत के मलबे में कई लोगों के दबे होने की आशंका है. पेशावर की स्थानीय सरकार के प्रमुख साहिब ज़ादा अनीस ने बताया है कि मरने वालों में ज़्यादातर आम नागरिक हैं.

पहले भी आईएसआई के कार्यालय को निशाना बनाया गया है. इसी साल मई में लाहौर स्थित आईएसआई के कार्यालय पर हुए हमले में 24 लोग मारे गए थे.

जब से पाकिस्तान की सेना ने दक्षिणी वज़ीरिस्तान में सैनिक कार्रवाई शुरू की है, आसपास के इलाक़ों में कई बम हमले हुए हैं.

दो सप्ताह पहले पेशावर के एक बाज़ार में हुए धमाके में 100 से ज़्यादा लोग मारे गए थे.

संबंधित समाचार