हत्या के मामले में सैन्य अधिकारी गिरफ़्तार

मैना सुनुवर
Image caption मैना सुनुवर की कथित तौर पर हत्या की गई थी

नेपाल में गृह युद्ध के दौरान 15 साल की लड़की की हत्या के आरोप में एक सैन्य अधिकारी को गिरफ़्तार किया गया है.

माओवादी विद्रोह के दौरान हुई उस घटना के मामले में ये गिरफ़्तारी अहम मानी जा रही है.

मेजर निरंजन बासनेत अफ़्रीकी देश चाड में थे जहां से संयुक्त राष्ट्र शांति सैनिकों ने उन्हें निष्कासित कर दिया.

वह जैसे ही काठमांडू हवाई अड्डे पर पहुँचे सेना पुलिस के जवानों ने उन्हें हिरासत में ले लिया.

नेपाली मीडिया के मुताबिक वह संयुक्त राष्ट्र शांति सेना के साथ जुड़े हुए थे.

नेपाल में माओवादी विद्रोह के समय कुल 13 हज़ार लोग मारे गए थे लेकिन मानवाधिकार हनन के मामले में किसी पर मुक़दमा नहीं चल सका था.

ख़बरों के मुताबिक चाड में संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन ने उन्हें इसलिए निष्कासित किया क्योंकि उनके ख़िलाफ़ नेपाल में आरोप लगाए गए थे.

दूसरी ओर नेपाली सेना के प्रवक्ता ने कहा है कि उन्हें वापस नेपाल भेजने की क्या वजह है, इसकी जाँच की जा रही है और तब तक मेजर बासनेत सेना की हिरासत में ही रहेंगे.

मेजर बासनेत के साथ तीन अन्य सैनिकों पर वर्ष 2004 में संदिग्ध माओवादी कार्यकर्ता मैना सुनुवर की हत्या का आरोप है. उस साल फरवरी में सेना के ही कैंप में उसकी कथित तौर पर हत्या की गई थी.

संबंधित समाचार