प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

सिंध में मोहर्रम में भाग लेते हिंदू

पाकिस्तान में इन दिनों जहाँ धार्मिक कट्टरवाद का बोलबाला है वहीं सिंध में सूफी रंग अब भी कायम है.

कराची से लेकर उमरकोट तक हिंदुओं के घरों में 10 दिनों तक इमाम हुसैन की याद में मोहर्रम के दिनों में शोक मनाया जाता है. कई हिंदू मजलिस में भी हिस्सा लेते हैं. मोहर्रम का सारा इंतजाम भी हिंदुओं के हाथों में ही होता है.

यह सिलसिला सदियों से जारी है. बीबीसी उर्दू सेवा के रियाज़ सुहेल की रिपोर्ट.