वार्ता में 26/11 का मुद्दा उठेगा:चिदंबरम

पी चिदंबरम
Image caption चिदंबरम ने कहा कि 'बातचीत सिर्फ़ बातचीत के लिए हो रही है.'

पाकिस्तान के साथ सचिव स्तरीय वार्ता से एक हफ़्ते पहले भारत के गृह मंत्री ने स्पष्ट किया है कि वार्ता के दौरान मुंबई हमलों की जाँच से जुड़े मुद्दे उठेंगे.

गृह मंत्री पी चिदंबरम ने शुक्रवार को दिल्ली में कहा कि भारत की ओर से वार्ता का एजेंडा क्या होगा, इसे अंतिम रुप दिया जा रहा है

उन्होंने कहा कि उनका मंत्रालय चाहता है कि बातचीत में 26/11 हमलों से जुड़े मुक़दमों की प्रगति और जाँच भी इसके दायरे में आए.

भारत की विदेश सचिव निरुपमा राव और पाकिस्तान के विदेश सचिव सलमान बशीर के बीच 25 फ़रवरी को दिल्ली में बातचीत होनी है.

भारत स्पष्ट कर चुका है कि आतंकवाद एजेंडे में सबसे ऊपर होगा.

ये पूछने पर कि पाकिस्तान से वार्ता की शर्त ये रखी गई थी कि वह अपनी ज़मीन पर चरमपंथी संरचना को ध्वस्त करे, फिर अभी बातचीत क्यों हो रही है, तो उनका कहना था,"ये सरकार का फ़ैसला है जिसका वह हिस्सा हैं."

पी चिदंबरम ने कहा कि लश्करे तैबा से जुड़े पाकिस्तानी-अमरीकी नागरिक डेविड हेडली से पूछताछ के लिए उनका मंत्रालय क़ानूनी विकल्पों की तलाश करेगा. हेडली फिलहाल शिकागो में क़ैद है.

ये पूछे जाने पर कि क्या अमरीकी ख़ुफ़िया एजेंसी एफ़बीआई भारत सरकार से कुछ अहम सूचनाएँ छिपा रहा है, उनका कहना था, "मैं नहीं जानता. मैं सिर्फ़ इतना कह सकता हूँ कि एफ़बीआई ने महत्वपूर्ण सूचनाएँ दी है. अगर वे कुछ छिपा रहे हैं तो मुझे क्या पता कि क्या छिपा रहे हैं."

संबंधित समाचार