अफ़ग़ानिस्तान में सैन्य अभियान धीमा

नैटो
Image caption कहा जा रहा है कि गठबंधन सेनाओं का अभियान धीरा चल रहा है

अमरीकी सेना के शीर्ष कमांडर का कहना है कि गठबंधन सेनाएँ दक्षिणी अफ़ग़ानिस्तान में धीरे धीरे आगे बढ़ रही हैं.

एडमिरल माइक मुलेन ने कहा,''हेलमंद प्रांत के मरजाह में सैन्य अभियान पेचीदा है लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि इसकी अहमियत कम है.''

अमरीकी रक्षा मंत्री रोबर्ट गेट्स ने कहा कि हेलमंद में चल रहा ऑपरेशन मुश्तरक उम्मीद से धीमा चल रहा है.

दस दिनों के इस अभियान में 15 हज़ार नैटो और अफ़ग़ान सैनिक लगे हैं.

इसके पहले अफ़ग़ानिस्तान सरकार ने पड़ोसी उरुज़गन प्रांत में एक हवाई हमले में 27 आम नागरिकों को मार दिया था.

अफ़ग़ानिस्तान सरकार ने नैटो के इस हमले की निंदा की है.

नैटो ने रविवार के इस हमले की जाँच शुरू कर दी है.

नैटो का कहना था कि उसने एक संदिग्ध काफ़िले को निशाना बनाया था लेकिन बाद में पाया कि इसमें कई अन्य लोग मारे गए हैं.

ये हमला हेलमंद के पास उरुज़गान प्रांत में गाड़ियों के एक काफ़िले पर हुआ.

अफ़ग़ानिस्तान के गृह मंत्रालय का कहना है कि हवाई हमले में तीन मिनी बसें निशाना बनीं थीं जिसमें 42 यात्री यात्रा कर रहे थे.

ये इस महीने में तीसरी बार है कि जब अफ़ग़ानिस्तान में तैनात विदेशी सेनाओं ने आम नागरिकों को निशाना बनाया है.

संबंधित समाचार