कोइराला को बेटी ने दी मुखाग्नि

  • 21 मार्च 2010
गिरिजा प्रसाद कोइराला की अंत्येष्टि
Image caption गिरिजा प्रसाद कोइराला को मुखाग्नि उनकी बेटी सुजाता कोइराला ने दी

नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री गिरिजा प्रसाद कोइराला को राजधानी काठमांडू में हज़ारों लोगों ने अंतिम विदाई दी.

सामान्य प्रथा से अलग, जीपी कोइराला को मुखाग्नि उनकी पुत्री और नेपाल की उपप्रधानमंत्री सुजाता कोइराला ने दी.

चार बार नेपाल के प्रधानमंत्री रह चुके कोइराला का शनिवार को 85 वर्ष की आयु में निधन हो गया था.

रविवार को उनके पार्थिव शरीर को काठमांडू की सड़कों से पशुपतिनाथ मंदिर तक ले जाया गया.

इस दौरान सड़कें खचाखच भरी थीं जहाँ जुटे हज़ारों नेपालवासियों ने अपने नेता को अंतिम श्रद्धांजलि दी.

बाद में शवयात्रा बागमती नदी के तट पर स्थित पशुपतिनाथ मंदिर पहुँची.

Image caption गिरिजा कोइराला की अंतिम यात्रा के दौरान हज़ारों लोग अंतिम दर्शन के लिए आए

आर्यघाट पर तमाम गणमान्य हस्तियों समेत हज़ारों लोगों की उपस्थिति में पूरे राजकीय सम्मान के साथ हिंदू रीति से नेपाली नेता की अंत्येष्टि संपन्न हुई.

हिंदू संस्कृति में आमतौर पर अपने प्रियजनों की अंत्येष्टि परिवार के पुरूष सदस्य ही किया करते हैं मगर गिरिजा प्रसाद कोइराला के शव की अंत्येष्टि उनकी बेटी ने की.

नेपाल के प्रधानमंत्री माधव कुमार नेपाल के अतिरिक्त नेपाल के तमाम बड़े नेता कोइराला के अंतिम संस्कार के दौरान मौजूद थे जिनमें माओवादी नेता प्रचंड भी शामिल थे.

भारत सरकार की ओर से एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी वहाँ उपस्थित था जिसमें लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार, वित्तमंत्री प्रणब मुखर्जी और विदेश मंत्री एसएम कृष्णा शामिल थे.

वरिष्ठ भारतीय मार्क्सवादी नेता सीताराम येचुरी भी वहाँ मौजूद थे.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है