बेनज़ीर हत्याकांड: संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट टली

पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री बेनज़ीर भुट्टो की हत्या की जाँच कर रहे संयुक्त राष्ट्र जाँच आयोग ने अपनी रिपोर्ट एक पखवाड़े के लिए टाल दी है.

पूर्व घोषणा के मुताबिक आयोग मंगलवार को ही संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून को रिपोर्ट सौंपने वाला था लेकिन पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी ने रिपोर्ट टालने का अनुरोध किया.

बान की मून ने इस अनुरोध को मान लिया है.

जाँच आयोग की ओर से रिपोर्ट मिलने के बाद संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बान की मून पाकिस्तान सरकार को इससे अवगत कराएँगे और उसके बाद ये रिपोर्ट सुरक्षा परिषद में पेश की जाएगी.

इस आयोग की जाँच पूरे करने की समयसीमा 30 मार्च को समाप्त हो गई है और संयुक्त राष्ट्र ने आशा व्यक्त की थी कि इस रिपोर्ट को निर्धारित समय में ही पूरा कर लिया जाएगा.

आयोग बेनज़ीर की हत्या के पीछे तथ्य क्या थे और किन परिस्थितियों में उनकी हत्या हुई, इस पर रिपोर्ट प्रस्तुत करेगा.

हत्या की जाँच

ग़ौरतलब है कि पूर्व प्रधानमंत्री बेनज़ीर भुट्टो की हत्या की जाँच के लिए संयुक्त राष्ट्र ने एक जाँच आयोग का गठन किया था और चिली में संयुक्त राष्ट्र के राजदूत बेरॉल्डो मेनोज़ को इसका अध्यक्ष बनाया गया था.

जाँच आयोग के सदस्यों ने इसी वर्ष फ़रवरी के आख़िरी सप्ताह में पाकिस्तान की तीन दिवसीय यात्रा की थी.

इस यात्रा के दौरान आयोग के अध्यक्ष और अन्य सदस्यों ने राष्ट्रपति आसिफ ज़रदारी, प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी और कई वरिष्ट अधिकारियों से मुलाक़ात की थी.

इस आयोग के सदस्यों ने बेनज़ीर भु्ट्टो की हत्या की जाँच के लिए पाकिस्तान के तीन दौरे किए थे.

बेनज़ीर भुट्टो की हत्या 27 दिसंबर, 2007 को उस समय हुई थी जब वे रावलविंडी में एक चुनावी सभा को संबोधित करने का बाद वहाँ से निकल रहीं थीं, उस दौरान उनके क़ाफिले पर आत्मघाती हमला हुआ था.

संबंधित समाचार