भ्रष्टाचार के मामले खोलो नहीं तो जेल

ज़रदारी
Image caption ज़रदारी पर भ्रष्टाचार के मामले हैं.

पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने भ्रष्टाचार निरोधक ईकाई के प्रमुख को जेल भेजने की धमकी दी है.

अदालत ने कहा कि अगर भ्रष्टाचार के सैंकड़ों लंबित मामलों की जाँच फिर शुरु नहीं हुई तो नेशनल अकाउंटैबिलिटी ब्यूरो के चेयरमैन नवीद एहसान को इसकी सज़ा भुगतनी होगी.

पाकिस्तान में राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी समेत कई नेताओं पर भाष्टाचार के मामले हैं.

अदालत ने नवीद एहसान को अगले चौबीस घंटे के भीतर इस आदेश का पालन करने को कहा है और इसमें विफल रहने पर उन्हें जेल भेजने की धमकी दी है.

पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल दिसंबर में उस अध्यादेश को रद्द कर दिया था जिसके तहत अधिकारियों और नेताओं को भ्रष्टाचार के मामलों में छूट मिली हुई थी.

वर्ष 2007 में तत्तकालीन राष्ट्रपति परवेज़ मुशर्रफ़ ने इस अधिकार का इस्तेमाल करते हुए कई नेताओं पर से मामले हटा लिए थे.

इनमें आसिफ़ अली ज़रदारी भी शामिल थे जिन्हें चुनाव लड़ने की भी छूट मिली थी.

संबंधित समाचार