पाकिस्तान में 15 चरमपंथी मारे गए

पाकिस्तानी सेना
Image caption पिछले कुछ हफ़्तों में वहाँ सैन्य अभियान में दो सौ से अधिक चरमपंथी मारे गए हैं

पाकिस्तान के सुरक्षा अधिकारियों का कहना है कि देश के पश्चिमोत्तर ऑरकज़ई इलाक़े में चरमपंथियों की कब्ज़ा करने की कोशिश को नाकाम कर दिया गया है.

इस घटना में कम से कम 15 चरमपंथी मारे गए हैं.

समाचार एजेंसियों के अनुसार सेना के लेफ़्टिनेंट कर्नल ताहिर अकरम ने बताया है कि चरमपंथी रात में उस इलाक़े में एक नाके पर दोबारा कब्ज़ा करने की कोशिश कर रहे थे.

इस प्रयास के दौरान दोनों पक्षों के बीच भीषण गोलीबारी हुई.

उनका कहना था, "देर रात ऑरकज़ई और ख़ायबर इलाक़े के लगभग सौ चरमपंथियों ने सेना पर धावा बोल दिया. इसके बाद भीषण गोलीबारी शुरु हो गई जो कई घंटे तक चली."

ग़ौरतलब है कि पाकिस्तानी सेना ने इस आंशिक तौर स्वायत्त इलाक़े में इस साल मार्च से बड़ा सैन्य अभियान शुरु किया था.

यह इलाक़ा तालेबान लड़ाकों का गढ़ बन गया है और पिछले कुछ हफ़्तों के सैन्य अभियान में 200 से ज़्यादा संदिग्ध चरमपंथी मारे गए हैं.

ये क्षेत्र शुरु में हकीमुल्लाह महसूद का गढ़ भी रहा है.

संबंधित समाचार