श्रीलंका में 112 भारतीय मछुआरे गिरफ़्तार

मछुआरे
Image caption मछुआरों की ग़िरफ़्तारी पहले भी भारत-श्रीलंका के बीच विवाद का मुद्दा रहा है.

श्रीलंका ने भारत के 112 मछुआरों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

आरोप है कि ये लोग तब पकड़े गए जब वो श्रीलंका की जलसीमा के भीतर मछली पकड़ रहे थे.

इन लोगों की रिहाई के लिए दोनों देशों के राजनयिकों के बीच बातचीत जारी है.

दक्षिणी शहर चेन्नई से आ रही ख़बरों के मुताबिक वहां हज़ारों लोगों ने श्रीलंका के ख़िलाफ़ विरोध प्रर्दशन किया है.

गिरफ़्तार किए गए सभी मछुआरों का ताल्लुक दक्षिण भारतीय राज्य तमिलनाडु से है.

जाफ़ना द्वीप से ख़बर है कि श्रीलंका के मछुआरों के एक ग्रुप ने भारतीय मछुआरे को तब पकड़ लिया जब वो श्रीलंका की जलसीमा में घुसने की कोशिश कर रहे थे, जिसके बाद इन लोगों को पुलिस के हवाले कर दिया गया.

इन मछुआरों के 18 नाव भी पुलिस ने ज़ब्त कर लिए हैं.

अस्वीकार्य धटना

दोनों पड़ोसी देशों के बीच ये ताज़ा विवाद अबतक की बड़ी घटनाओं में से एक हैं.

भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा है कि भारत इस घटना को गंभीरता से ले रहा है.

उन्होंने कहा, "दो पड़ोसी देशों के बीच इस तरह की घटना स्वीकार्य नहीं है."

श्रीलंका के मछुआरों ने बीबीसी से कहा कि भारतीय मछुआरे बड़ी नावों के साथ उनकी सीमा में घुसकर मछली पकड़ते है जिससे उन्हें दिक़्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

इधर जनवरी में भारतीय ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि श्रीलंका की नौसेना ने दो भारतीय मछुआरों को गोली मार दी है.

इस घटना के बाद भारत के विदेश मंत्री ने श्रीलंका का दौरा किया था.

समस्या के निपटारे के लिए दोनों देशों ने एक संयुक्त कार्यदल भी तैयार किया है.

संबंधित समाचार