नए सिरे से हमले करेंगे: तालिबान

तालिबान
Image caption अमरीकी रक्षा मंत्रालय ने तालिबान गतिविधियों पर अंकुश लगाने का दावा किया है

तालिबान ने पूरे अफ़ग़ानिस्तान में नए सिरे से हमले शुरु करने की घोषणा की है.

एक बयान में तालिबान ने कहा है कि हमले रविवार से शुरु होंगे और इसके निशाने पर विदेशी फ़ौजें और अफ़ग़ानिस्तान के सैनिक और अधिकारी होंगे.

तालिबान ने आम लोगों को चेतावनी दी है कि है कि वे सार्वजनिक स्थानों पर जमा होने, सैन्य ठिकानों और सरकारी इमारतों में जाने से परहेज़ करें और सरकारी काफ़िलों से दूर रहें.

इस बीच नैटो ने अपनी जाँच के बाद कहा है कि बुधवार को काबुल विमानतल पर एक बंदूकधारी ने जो हमला किया था उसके पीछे तालिबान का हाथ नहीं था.

इस हमले में एक अफ़ग़ान पायलट ने आठ अमरीकी सैनिक और एक ठेकेदार को मार दिया था. बाद में वह मरा हुआ पाया गया था.

तालिबान ने इस हमले की ज़िम्मेदारी ली थी लेकिन साझा सेना की ओर से कहा गया है कि इस बात के कोई सबूत नहीं हैं कि इसके पीछे तालिबान का हाथ है और ऐसा लगता है कि पायलट ने ख़ुद ही इसे अंज़ाम दिया.

नए हमले

शनिवार को जारी अपने बयान में तालिबान ने कहा है, "हम अफ़ग़ानिस्तान पर हमला करने वाली विदेशी फ़ौजों, उनके ख़ुफ़िया तंत्र से जुड़े लोगों और काबुल के कठपुतली प्रशासन के आला अधिकारियों पर हमले करेंगे."

उन्होंने कहा है, "ये संघर्ष तब तक जारी रहेगा जब तक विदेशी फ़ौजें अफ़ग़ानिस्तान से चली नहीं जाती हैं."

हाल के हफ़्तों में तालिबान ने कई हमलों की ज़िम्मेदारी ली है.

इसमें कंधार के पुलिस प्रमुख ख़ान मोहम्मद मुजाहिद की हत्या और जलालाबाद के सैन्य ठिकाने पर आत्मघाती हमला कर पाँच विदेशी और पाँच अफ़ग़ान सैनिकों को मारने की घटना शामिल है.

हालांकि अमरीकी रक्षा मंत्रालय के मुख्यालय पेंटागन की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले साल अमरीकी सैनिकों की संख्या बढ़ाए जाने के बाद विद्रोहियों की गतिविधियों पर अंकुश लगा है.

संबंधित समाचार