अफ़ग़ान प्रदर्शनकारियों पर गोली, एक मरा

नेटो सैनिक इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption नेटो सैनिकों का कहना है कि वे तालिबान के एक नेता को पकड़ने गए थे

अफ़ग़ानिस्तान में पुलिस ने नेटो सैनिकों के हाथों ग़लती से एक लड़के के मारे जाने का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों पर गोलियाँ चलाई हैं.

देश के पूर्व में स्थित नांगरहार प्रांत के एक अधिकारी के अनुसार पुलिस की कार्रवाई में एक प्रदर्शनकारी मारा गया है और तीन अन्य घायल हो गए हैं.

उसके मुताबिक़ वहाँ सैकड़ों प्रदर्शनकारी जुटे थे जब कुछ लोगों ने गोलियाँ चलानी और पत्थर फेंकना शुरू कर दिया जिसके बाद सैनिकों ने भी गोली चलाई.

अफ़ग़ानिस्तान में तैनात इंटरनेशनल सिक्योरिटी ऐससिस्टेंस फ़ोर्स का कहना है कि 15 वर्ष का एक लड़का उनकी कार्रवाई के दौरान ग़लती से मारा गया.

उनका कहना है कि उनके सैनिक एक तालिबान नेता को खोज रहे थे जब ग़लती से उनकी कार्रवाई में लड़का मारा गया.

उनके अनुसार सैनिक एक घर के भीतर दाख़िल हुए थे जब वो लड़का अपनी बंदूक लेने भागा जिसके बाद सैनिकों ने उसे गोली मार दी.

विदेशी सैनिकों के हाथों आम लोगों के मारे जाने का मुद्दा अफ़ग़ानिस्तान और उसके पश्चिमी समर्थकों के बीच एक बड़े मतभेद का मुद्दा रहा है.

अफ़ग़ानिस्तान में एक लाख 30 हज़ार से अधिक अंतरराष्ट्रीय सैनिक तैनात हैं.

संबंधित समाचार