बांग्लादेश में विपक्ष की हड़ताल

इमेज कॉपीरइट AFP

बांग्लादेश में विपक्षी दल बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) की दिन भर की हड़ताल के दौरान देश भर में कई लोगों को हिरासत में लिया गया है.

ढाका में हज़ारों की संख्या में पुलिस बल तैनात है. रविवार को ढाका में दुकानें और स्कूल बंद रहें और यातायात भी बुरी तरह प्रभावित हुआ है. बांग्लादेश में रविवार को छुट्टी नहीं होती है.

रिपोर्टों के मुताबिक सुरक्षाबलों ने विपक्ष के कार्यकर्ताओं को रैली करने से रोका.

दरअसल सरकार संविधान के उस प्रस्ताव में संशोधन करना चाहती है जिसके तहत सरकार को अपने कार्यकाल के अंत में सत्ता एक निष्पक्ष कार्यवाहक प्रशासन को सौंपना होगी जो चुनाव करवा सके. लेकिन विपक्षी पार्टी सरकार के इस प्रस्ताव का विरोध कर रही है.

बीएनपी और उसकी सहयोगी पार्टी जमाते इस्लामी की माँग है कि आने वाले संसदीय चुनावों के लिए भी कार्यवाहक सरकार की प्रणाली बरकरार रखी जाए.

उधर प्रधानमंत्री शेख हसीना ने कहा है कि वो संसद में विपक्ष के साथ इस मुद्दे पर बात करने के लिए तैयार हैं और हिंसा इसका हल नहीं है.

जबकि पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा ज़िया के नेतृत्व में विपक्ष का आरोप है कि 2014 में अपना कार्यकाल ख़त्म होने के बाद भी सत्ता में बने रहना चाहती है.

संबंधित समाचार