बर्मा में शांतिपूर्ण प्रदर्शन की इजाज़त

  • 3 दिसंबर 2011
थीन सींन इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption बर्मा के राष्ट्रपति थीन सींन ने पहली बार शांतिपूर्ण तरीके से होने वाले सार्वजनिक प्रदर्शन के कानून पर हस्ताक्षर कर दिए हैं.

बर्मा के राष्ट्रपति थीन सींन ने पहली बार शांतिपूर्ण तरीके से होने वाले सार्वजनिक प्रदर्शन के कानून पर हस्ताक्षर कर दिए हैं.

नए क़ानून के अनुसार प्रदर्शनकारियों को कम से कम पांच दिन पहले स्थानीय अधिकारियों से प्रदर्शन की अनुमति लेनी होगी.

इस बीच सरकार और 'शान स्टेट आर्मी साउथ' नाम के एक बड़े सशस्त्र प्रजातीय संगठन ने युद्धविराम का फैसला किया है

इस युद्धविराम पर शुक्रवार को हस्ताक्षर किए गए थे.

बर्मा के कई हथियारबंद प्रजातीय संगठनों से शांतिवार्ता पश्चिमी देशों की प्रतिबंध हटाने के लिए मुख्य शर्त रही है.

हिलेरी की यात्रा समाप्त

युद्धविराम और नया कानून अमरीकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन की तीन दिन की यात्रा के दौरान आए हैं जो अब समाप्त हो गई है.

शुक्रवार को बर्मा की लोकतंत्र समर्थक नेता आंग सान सू ची ने हिलेरी क्लिंटन से मुलाक़ात की और कहा कि बर्मा लोकतंत्र के रास्ते पर चलना शुरू कर सकता है.

उन्होंने सैनिक समर्थन वाली नई सरकार की तरफ़ से किए जा रहे सुधारों का स्वागत किया जिसकी बदौलत उनकी पार्टी चुनाव में भाग ले पा रही है.

पिछले 50 सालों में हिलेरी क्लिंटन बर्मा की यात्रा पर पहुँचनेवाली सबसे वरिष्ठ अमरीकी अधिकारी थीं.

बर्मा में 1962 से लेकर पिछले साल तक सैनिक सरकार का ही सीधा शासन था.

पिछले साल सैन्य शासकों ने असैनिक सरकार को सत्ता सौंप दी. हालाँकि संविधान में अभी भी सेना की सर्वोच्चता बरक़रार है.

संबंधित समाचार