किसान ने कोबरा को दाँत से काटकर मार डाला

 गुरुवार, 23 अगस्त, 2012 को 22:32 IST तक के समाचार
नेपाल

नेपाल के किसान ने जिस साँप को काट कर मारा, वो कोबरा था

आपने ये तो सुना होगा कि साँप के काटने से किसी व्यक्ति की मौत हो गई, लेकिन आपने ये शायद ही सुना होगा कि किसी व्यक्ति ने उलटे साँप को काट लिया और फिर साँप मर भी गया.

ऐसा हुआ है नेपाल में. नेपाल की राजधानी काठमांडू से 200 किलोमीटर दक्षिणपूर्व स्थित एक गाँव में मंगलवार को ये घटना हुई.

नेपाल के एक किसान को धान के खेत में एक कोबरा ने काट लिया. बदले में किसान ने भी साँप को अपने दाँत से इतनी बार काटा कि साँप की मौत हो गई.

मोहम्मद सलमोद्दीन ने बीबीसी को बताया, "एक सँपेरे ने मुझे बताया था कि अगर कोई साँप तुम्हे काटे, तो बदले में तुम भी उसको उस समय तक काटते रहो कि उसकी मौत हो जाए और तुम्हें कुछ नहीं होगा."

मोहम्मद सलमोद्दीन साँप के काटने और फिर उसे मारने के बाद अस्पताल तो गए, लेकिन अब उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई है.

कार्रवाई नहीं

अधिकारियों का कहना है कि उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होगी क्योंकि ये साँप लुप्तप्राय प्रजाति का नहीं था.

मोहम्मद सलमोद्दीन ने बिराटनगर में बीबीसी नेपाली के बिक्रम निरौला को बताया, "जब मुझे लगा कि साँप ने मुझे काट लिया है, तो मैं घर गया और टॉर्च लेकर आया और देखा कि वो एक कोबरा था. इसके बाद मैंने उसे काटकर मार डाला."

साँप को दाँत से काटकर मारने के बाद मोहम्मद सलमोद्दीन ने कहा कि वे अपनी दिनचर्चा में ऐसे व्यस्त हो गए, जैसे कुछ हुआ ही न हो. लेकिन परिजनों, पड़ोसियों और पुलिस के दबाव में वे अस्पताल जाने को तैयार हुए.

माना जा रहा है कि जो साँप मारा गया, वो सामान्य कोबरा था. नेपाल में कई तरह के साँप पाए जाते हैं, जिनमें से कई ज़हरीले होते हैं और इनमें कोबरा भी शामिल है.

समाचार एजेंसी एएफ़पी के मुताबिक़ आकलन ये है कि नेपाल में हर साल साँप के काटने के 20 हज़ार मामले सामने आते हैं. इनमें से ज़्यादातर मामले दक्षिणी तराई क्षेत्र से आते हैं और क़रीब हज़ार लोगों की मौत भी हो जाती है.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.