आज़ाद भारत:मुख्य पड़ाव
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
दूसरा परमाणु परीक्षण
 
 
 
 
 
आज़ाद भारत के मुख्य पड़ाव

आज़ाद भारत के मुख्य पड़ाव

 

1974 के बाद दूसरी बार 11 और 13 मई 1998 को भारत ने पोखरण में पाँच परमाणु परीक्षण किए. प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने जल्दबाजी में बुलाई गई प्रेस कॉंफ्रेंस में इसकी जानकारी दी.

हालाँकि विश्व समुदाय ने भारत के इस क़दम की आलोचना की. ऑस्ट्रेलिया से लेकर अमरीका तक ने भारत के ख़िलाफ़ कई तरह के प्रतिबंध लगा दिए.

इससे पड़ोसी देश पाकिस्तान के साथ भी रिश्ते खट्टे हुए और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ ने कहा कि उनका देश भी अपनी संप्रभुता की रक्षा के लिए क़दम उठाने को स्वतंत्र है.

पाकिस्तान भी इसी रास्ते पर आगे बढ़ा. 28 मई को उसने भी परमाणु परीक्षण करके भारत को जवाब दिया.
 
^^ पन्ने पर ऊपर जाने के लिए क्लिक करें