शारापोवा की अपील पर प्रतिबंध दो साल से घटकर हुआ 15 महीने

Maria Sharapova won the Wimbledon title as a 17-year-old in 2004, then went on to win a career Grand Slam
इमेज कैप्शन,

मारिया शारापोवा ने साल 2004 में 17 साल की उम्र में विंबलडन ख़िताब जीता था

खेलों की मध्यस्थता अदालत ने रूसी टेनिस स्टार मारिया शारापोवा पर लगे डोपिंग प्रतिबंध की अवधि में कटौती की है और इसे घटाकर पंद्रह महीने कर दिया हैरापोवा पर दो साल का प्रतिबंध लगा था जिसके ख़िलाफ़ उन्होंने अपील की थी.

इसके बाद पांच बार की ग्रैंड स्लैम चैंपियन शारापोवा की अगले साल अप्रैल में होने वाली प्रतिस्पर्धा फ्रेंच ओपन तक वापसी हो जाएगी.

शारापोवा इसी साल जनवरी में ऑस्ट्रेलियन ओपन टूर्नामेंट के दौरान प्रतिबंधित पदार्थ मेलडोनियम के लिए की गई जांच में पॉजिटिव पाई गई थीं.

फ़ैसले में कहा गया कि शारापोवा का मामला 'ऐसा नहीं था जिसमें एक खिलाड़ी ने धोखा दिया हो.'

मंगलवार को आए फ़ैसले के बाद शारापोवा ने कहा कि उन्होंने आसानी से उपलब्ध इस सप्लिमेंट के सेवन की शुरू से ज़िम्मेदारी ली थी.

लेकिन साथ ही अपनी दलील में उन्होंने कहा कि टेनिस अधिकारियों को खिलाड़ियों को इसकी स्पष्ट अधिसूचना देनी चाहिए थी कि इसे प्रतिबंधित पदार्थों की सूची में शामिल किया जा रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)