एशेज़ के तीसरे मैच में फ़िक्सिंग के दावे ग़लतः आईसीसी

  • 14 दिसंबर 2017
क्रिकेट मैच इमेज कॉपीरइट Getty Images

पर्थ में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच चल रहे तीसरे ऐशेज़ टेस्ट मैच में फ़िक्सिंग के आरोपों को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल ने ख़ारिज किया है.

ब्रिटेन के अख़बार 'द सन' ने दावा किया था कि भारतीय बुकी ने इस मैच को फ़िक्स किए जाने के लिए ऑफ़र दिया था.

आईसीसी के जनरल मैनेजर एंटी करप्शन एलेक्स मार्शल ने कहा, "द सन की जांच पड़ताल से संबंधित सभी सूचनाएं हमें मिली हैं."

उन्होंने कहा, "इस बात के कोई संकेत नहीं हैं कि टेस्ट में खेल रहे किसी खिलाड़ी से कथित रूप से किसी फ़िक्सर ने कोई मुलाक़ात नहीं की थी."

ये टेस्ट मैच गुरुवार को शुरू हुआ. ऑस्ट्रेलियाई टीम इस सिरीज़ में 2-0 से आगे चल रही है.

अगर वे फ़ाइनल के तीन मैचों में से एक भी जीत जाते हैं तो ऐशेज़ का पुरस्कार बरक़रार रखेंगे.

'द सन' के अनुसार, ऑस्ट्रेलियाइयों के साथ काम कर रहे 'द साइलेंट मैन' गैंग, इस मैच को प्रभावित करने के लिए एक लाख 38 हज़ार पाउंड की रिश्वत दे रहा था.

हालांकि अख़बार की पड़ताल में इंग्लैंड टीम के किसी खिलाड़ी का नाम नहीं लिया गया था. गैंग ने दावा किया कि उसने एक पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी को फ़िक्सिंग में शामिल किया था.

अंग्रेज़ क्रिकेटर बेन डकेट ने एंडरसन पर उड़ेली शराब, निलंबित

भारतीय टेस्ट क्रिकेट की वो पांच ख़ास पारियां

इमेज कॉपीरइट Getty Images

रन बनाने को लेकर फ़िक्सिंग के आरोप

इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने बीबीसी को बताया, "दुखद है कि ऐसा लिखा जा रहा है. हमें इस टेस्ट मैच पर ध्यान केंद्रित करना है और मैच जीतने की हम पूरी कोशिश करेंगे."

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने कहा, "जहां तक मैं जानता हूं, ऐसा कुछ भी नहीं है. हमारे खेल में इसकी कोई जगह नहीं है."

अभी ये साफ़ नहीं है कि टेस्ट को फ़िक्स करने के लिए बुकर्स ने कैसे प्रस्ताव दिया था. हालांकि अख़बार के अनुसार, इनमें से एक व्यक्ति ने पत्रकार को बताया कि वो 'किसी खिलाड़ी को इसके लिए राज़ी कर सकता है, जैसे कि एक पाली या इनिंग में कितने रन बनाने हैं या कब विकेट गिरना है और टॉस जीतने के बाद वो टीम क्या करेगी.'

मार्शल ने कहा, "हमने इन आरोपों को गंभीरता से लिया है और इसकी जांच आईसीसी की एंटी करप्शन यूनिट करेगी."

इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने बयान जारी कर कहा है कि इन आरोपों की जानकारी हमें है, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं पता चला है कि इंग्लैंड की टीम किसी भी तरह से इन सबमें शामिल है.

इस बीच ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड ने कहा है कि उसे अपने खिलाड़ियों पर पूरा भरोसा है.

बोर्ड के प्रमुख जेम्स सदरलैंड ने कहा, "इसमें कोई सबूत नहीं है जिसके आधार पर हम इस टेस्ट मैच या ऐशेज़ सिरीज़ के पूरे मैचों पर शक कर सकें."

भारतीय टीम में वॉशिंगटन को मिली जगह

गेल की तूफ़ानी सिक्सर मेल, 18 छक्के...146 रन

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे