भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर जीता अंडर-19 वर्ल्ड कप, मनजोत की सेंचुरी

  • 3 फरवरी 2018
मनजोत कालरा इमेज कॉपीरइट BCCI
Image caption मनजोत कालरा

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को आठ विकेट से हराकर आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप का खिताब जीत लिया है.

मनजोत कालरा (101) और हार्विक देसाई (47) के बेहतरीन नाबाद पारियों की बदौलत भारत ने ऑस्ट्रेलिया की ओर से मिला 217 रनों का लक्ष्य 38.5 ओवरों में दो विकेट गंवाकर हासिल कर लिया.

भारत ने चौथी बार वर्ल्ड कप जीता है. इससे पहले भारतीय लड़कों ने साल 2000, 2008 और 2012 में ये खिताब अपने नाम किया था.

बीसीसीआई ने टीम के लिए पुरस्कार राशि का भी ऐलान किया है. टीम के कोच राहुल द्रविड़ को 50 लाख और टीम के खिलाड़ियों को 30-30 लाख रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा.

सपोर्ट स्टाफ के हर सदस्य को 20 लाख रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा.

भारत की कसी हुई गेंदबाज़ी

न्यूज़ीलैंड के बे ओवल में खेले गए फ़ाइनल मुक़ाबले में ऑस्ट्रेलिया ने पहले टॉस जीतकर बल्लेबाज़ी करने का फ़ैसला किया.

लेकिन भारतीय गेंदबाज़ नियमित अंतराल पर ऑस्ट्रेलियाई विकेट चटकाते रहे और ऑस्ट्रेलिया के सभी दस बल्लेबाज़ों को 47.2 ओवरों में पैवेलियन लौटा दिया.

ऑस्ट्रेलिया की टीम भारत के सामने सिर्फ़ 217 रन की चुनौती ही रख सकी. ऑस्ट्रेलिया के लिए मध्यक्रम के बल्लेबाज़ जोनाथन मर्लो ने सबसे अधिक 76 रन बनाए. भारतीय गेंदबाज़ों ईशान पोरेल, शिवा सिंह, कमलेश नागरकोटी और अनुकूल रॉय ने दो-दो विकेट चटकाए.

मैच का स्कोरकार्ड यहां देखें

भारतीय पारी

इमेज कॉपीरइट BCCI

जवाब में भारत की शुरुआत बहुत अच्छी रही. कप्तान पृथ्वी शॉ (29) और मनजोत कालरा के बीच पहले विकेट के लिए 71 रनों की साझेदारी हुई. कप्तान पृथ्वी सदरलैंड की गेंद पर बोल्ड हुए. उन्होंने 29 रनों की पारी के दौरान 41 गेंदें खेली और चार चौके लगाए.

कप्तान के आउट होने के बाद भी मनजोत ने किसी तरह की हड़बड़ी नहीं दिखाई और न ही ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों को हावी होने का मौका दिया.

मनजोत ने शानदार शतक बनाया. उन्होंने 102 गेंदों पर आठ चौकों और तीन छक्कों की मदद से 101 रन बनाए और नाबाद रहे. मनजोत ने शुबमन गिल (31) के साथ 60 रनों की साझेदारी की और इसके बाद हार्विक के साथ भारत को जीत की मंजिल तक पहुँचाया.

दोनों ही टीमों ने अपने अंतिम एकादश में कोई बदलाव नहीं किया था.

दोनों टीमों ने अब तक तीन-तीन बार खिताब अपने नाम किया था और चौथे खिताब के लिए आमने-सामने थीं.

ऑस्ट्रेलिया ने 1988, 2002 और 2010 में विश्व कप खिताब जीता है.

इमेज कॉपीरइट AFP

दोनों टीमें

भारत: पृथ्वी शॉ (कप्तान), मनजोत कालरा, शुभमन गिल, हार्विक देसाई (विकेटकीपर), रियान पराग, अभिषेक शर्मा, अनुकूल रॉय, कमलेश नागरकोटी, शिवम मावी, शिवा सिंह और इशान पोरेल.

ऑस्ट्रेलिया: मैक्स ब्रायन्ट, जैक एडवर्ड्स जेसन सांगा (कप्तान), जोनाथन मर्लो, परम उप्पल, नाथन मैकस्वीनी, विल सदरलैंड, बैक्टर हॉल्ट (विकेटकीपर), जैक इवांस, रायन हेडली, और लॉयड पोप.

कौन है आईपीएल का पहला नेपाली क्रिकेटर

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे