ऑस्ट्रेलिया की अंडर-19 टीम के कप्तान सांगा हैं धोनी की कप्तानी के दीवाने

  • 3 फरवरी 2018
जेसन जसकीरत सांगा इमेज कॉपीरइट Cricket Australia

मिलिए जेसन जसकीरत सांगा से. सांगा ऑस्ट्रेलिया के अंडर-19 क्रिकेट टीम के कप्तान हैं.

वो न्यूज़ीलैंड में खेले जा रहे अंडर-19 वर्ल्ड कप क्रिकेट फ़ाइनल में भारत के ख़िलाफ़ अपनी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं.

कम ही लोग जानते हैं कि जेसन जसकीरत सांगा भारतीय मूल के हैं. उनके पिता कुलदीप सांगा पंजाब के बठिंडा ज़िले से हैं.

अंडर-19 फ़ाइनल: ऑस्ट्रेलिया की पहले बल्लेबाज़ी

अंडर-19 वर्ल्ड कप में धूम मचाने वाले 5 इंडियन

बीबीसी से हुई ख़ास बातचीत में उन्होंने अपनी ज़िंदगी से जुड़ी कई दिलचस्प बातें साझा कीं.

क्रिकेट के सफ़र पर कैसे चल निकले?

जसकीरत बताते हैं कि इसकी शुरुआत तब हुई जब उन्होंने एडम गिलक्रिस्ट को बैटिंग करते देखा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

उन्होंने बताया, "गिलक्रिस्ट को देखने के कुछ महीनों बाद ही मैंने क्रिकेट किट खरीदी और टेनिस बॉल के साथ घर में ही खेलना शुरू किया. दीवारों को विकेट बनाया और बॉलिंग की क़ोशिश भी की."

सांगा के घर में भी स्पोर्ट्स का माहौल है. उनके माता-पिता भी एथलीट रहे हैं और वो भी उनके कदमों पर चलना चाहते हैं.

हालांकि शुरुआती दिनों दिनों में जेसन ने क्रिकेट को कभी अपना लक्ष्य नहीं माना. वो बड़ी बेबाकी से बताते हैं कि उन्हें ये भी नहीं पता था कि क्रिकेट खेला कैसे जाता है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

उन्होंने बताया कि उनकी मां और बहन उनके खेल का पूरा ध्यान रखती हैं. जेसन बताते हैं कि उनकी मां ने उनके लिए क्रिकेट क्लब खोजा और तभी उन्होंने खेलना शुरू किया.

जेसन ने बताया, "मुझे वैसे खेल ज़्यादा पसंद हैं जिनमें किसी एक व्यक्ति से प्रतिस्पर्धा के बजाय टीमों के बीच कॉम्पिटिशन होता है. इसलिए भी मुझे क्रिकेट चुनने में आसानी हुई."

तीन साल की उम्र में ही बल्ला टटोलने लगे थे शुबमन

याद रहेगा विराट कोहली का ये जवाब

ऑस्ट्रेलिया के अंडर -19 टीम में जेसन ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ सेंचुरी बनाई और इससे उनका काफी मनोबल बढ़ा.

वो बताते हैं, "शुरुआती दिनों में जब मैं क्रिकेट को सीखने-समझने वाले दौर में था तभी मुझे टीम में शामिल कर लिया गया तो मुझे लगा कि कहीं मुझे ग़लती से नहीं चुना गया."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

फिलहाल पिछले दो साल से वो न्यू साउथ वेल्स क्लब से जुड़े हैं और अब वो काफी स्थिर हैं. जेसन मानते हैं कि पहले साल वो मानसिक दबाव में थे और खेलना आसान नहीं था क्योंकि तब वो सिर्फ 17 साल के थे और मैदान में सीनियर खिलाड़ियों के साथ खेल रहे थे.

हालांकि अब उन्होंने इस बात को स्वीकार कर लिया है कि वो पेशेवर क्रिकेटर बन चुके हैं और मानसिक दबाव उनके पेशे का एक हिस्सा है.

जेसन के खेल के बारे में कुछ ख़ास बातें

• पसंदीदा फिल्डिंग स्थान: स्लिप, कवर पॉइंट

• यादगार क्षण: इंग्लैंड के खिलाफ शतक

• ना भूलने वाला क्षण: पहले गेंद पर आउट होना

• पसंदीदा ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़: स्टीव स्मिथ

• पसंदीदा ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज: मिशेल स्टार्क

• पसंदीदा ऑस्ट्रेलियाई फ़ील्डर: ग्लैन मैक्सवेल

• पसंदीदा ऑस्ट्रेलियाई खेल मैदान: सिडनी क्रिकेट ग्राउंड

• पसंदीदा अंतर्राष्ट्रीय बल्लेबाज: विराट कोहली

• पसंदीदा अंतर्राष्ट्रीय तेज गेंदबाज: डेल स्टेन

• पसंदीदा अंतर्राष्ट्रीय स्पिनर: आर अश्विन

• पसंदीदा इंटरनेशनल फिल्डर: एबी डिविलियर्स

• पसंदीदा अंतर्राष्ट्रीय मैदान: लॉर्ड्स, इंग्लैंड

अंडर-19 वर्ल्ड कप के बारे में उन्होंने कहा, "हमारी टीम ने काफी अच्छी तैयारी की है." जेसन 'कैप्टन कूल' यानी एमएस धोनी की कप्तानी से काफी प्रभावित हैं और किसी भी तरह के हमलावर रुख को नहीं अपनाना चाहते."

इसके अलावा उनके पसंदीदा क्रिकेटरों में विराट कोहली और स्टीव स्मिथ शामिल हैं क्योंकि ये दोनों भी अपने देश के लिए अंडर-19 टीम में खेल चुके हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए