ऐसा गरजा मुशफ़िकुर का बल्ला कि ढेर हुए श्रीलंका के शेर

  • 11 मार्च 2018
बांग्लादेश इमेज कॉपीरइट @OfficialSLC/Twitter

कोलंबो मे खेले गए निदाहास त्रिकोणीय टी-20 श्रृंखला के रोमांचक मुक़ाबले में शनिवार को बांग्लादेश ने श्रीलंका को 5 विकेट से हरा दिया.

त्रिकोणीय टी-20 श्रृंखला का यह तीसरा मुक़ाबला था. पहले मुक़ाबले में जहां श्रीलंका ने भारत को हराया था. वहीं, दूसरे मैच में भारत ने बांग्लादेश को हराया था.

बांग्लादेश के लिए यह मैच आसान नहीं था क्योंकि श्रीलंका ने उसे 215 रनों का लक्ष्य दिया था, लेकिन विकेटकीपर मुशफ़िकुर रहीम के धमाकेदार प्रदर्शन के बल पर उसने अपनी जीत तय कर ली.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption मुशफ़िकुर रहीम

मुशफ़िकुर ने श्रीलंका के गेंदबाज़ों को पस्त कर दिया. उन्होंने 35 गेंदों में नाबाद 72 रन बनाए.

अंतिम चार ओवरों में बांग्लादेश को 40 रन की ज़रूरत थी. मुशफ़िकुर और महमुदुल्लाह की जोड़ी उस समय पिच पर थी.

इसके बाद धीरे-धीरे एक छोर पर विकेट गिरते रहे, लेकिन दूसरी ओर मुशफ़िकुर जमे रहे और उन्होंने अपनी टीम को 19.4 ओवरों में जीत की दहलीज़ पर पहुंचा दिया. श्रीलंका की ओर से नुवान फ़र्नांडो ने दो, चमीरा और थिसारा परेरा ने एक-एक विकेट लिए.

कौन हैं बांग्लादेश के ख़िलाफ जीत के हीरो विजय शंकर

कितना कमाते हैं विराट कोहली और धोनी

इमेज कॉपीरइट @ICC/Twitter
Image caption कुसाल परेरा ने 74 रनों की पारी खेली थी

परेरा-मेंडिस की पार्टनरशिप

इससे पहले बांग्लादेश ने टॉस जीतकर श्रीलंका को पहले बल्लेबाज़ी के लिए आमंत्रित किया था. श्रीलंका ने 20 ओवरों में छह विकेट खोकर 214 रन बनाए थे.

श्रीलंका की ओर से कुसाल परेरा ने सबसे अधिक 74 रन और कुसाल मेंडिस ने 57 रन बनाए थे. दोनों की जोड़ी ने सबसे अधिक 85 रन की पार्टनरशिप भी की.

इस दौरान बांग्लादेश की ओर से गेंदबाज़ी करते हुए मुस्तफ़िज़ुर रहमान ने 48 रन देकर तीन विकेट लिए. वहीं, महमुदुल्लाह ने दो और तस्किन अहमद ने एक विकेट चटकाया.

टूर्नामेंट का अगला मैच भारत और श्रीलंका के बीच कोलंबो में 12 मार्च को खेला जाएगा.

क्या शमी को 'बेवफ़ाई' की ऐसी सज़ा मिलनी चाहिए?

शिखर धवन और जसप्रीत बुमराह होंगे मालामाल!

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे