क्या क्रिकेट की सबसे बदनाम टीम है ऑस्ट्रेलिया?

  • 25 मार्च 2018
स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर

क्या क्रिकेट के मैदान पर अपने व्यवहार के कारण ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स दुनिया में सबसे बदनाम हैं.

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों पर स्लेजिंग और मैदान में लड़ाई जैसे अनुशासनहीनता के आरोप क्यों लगते रहे हैं?

विवादों की वजह से ऑस्ट्रेलिया की टीम कई बार मुश्किल में घिरी. टीम की साख पर असर हुआ और खिलाड़ियों के ख़िलाफ कार्रवाई भी हुई. लेकिन फिर भी भद्रलोगों का खेल कहे जाने वाले क्रिकेट में किसी भी दूसरी टीम के मुक़ाबले ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों पर नियम तोड़ने के ज़्यादा आरोप लगते हैं.

दरअसल ऑस्ट्रेलियाई टीम जीतने के लिए नियम-कायदों को ताक पर रखने से बाज़ नहीं आती. यही वजह है कि ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स और विवादों का चोली दामन का साथ रहा है और उनकी कामयाबी की चमक फीकी पड़ती रही है.

पढ़िए ऐसे पांच मामले जब ऑस्ट्रेलिया टीम को अपने खिलाड़ियों की हरकतों की वजह से शर्मसार होना पड़ा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption स्टीव स्मिथ

बॉल टैंपरिंग

ये ताज़ा मामला है. ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका की टीम के बीच केपटाउन में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच का.

1-1 से सिरीज़ में बराबरी के बाद जब केपटाउन में तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन फील्ड अंपायरों ने कैमरन बैनक्रॉफ्ट को गेंद से छेड़छाड़ करते देखा तो उनसे बात की. बैनक्रॉफ्ट की यह हरकत कैमरे में भी कैद हो गई और शाम को संवाददाताओं से बात करते हुए कप्तान स्टीव स्मिथ ने बॉल टैंपरिंग की बात स्वीकार ली. और अंततः कप्तान स्वीट स्मिथ और उपकप्तान डेविड वार्नर को अपनी कप्तानी गंवानी पड़ी.

'बॉल टैंपरिंग'

ऑस्ट्रेलियाई टीम का बॉल टेम्परिंग कांड

स्मिथ ने ऐसा क्या किया कि तमतमा गए कोहली

इमेज कॉपीरइट Getty Images

बेकाबू वार्नर

दोनों देशों के बीच इसी सिरीज़ के पहले टेस्ट के दौरान डेविड वॉर्नर और क्विंटन डी कॉक के बीच ड्रेसिंग रूम में जमकर कहासुनी हुई. इस घटना का वीडियो भी जारी किया गया. जिसे देखकर यह लग रहा था कि अगर दोनों को अलग नहीं किया जाता तो उनके बीच मारपीट की नौबत आ जाती.

इसी सिरीज़ के तीसरे टेस्ट के दौरान वार्नर को एक फैन से भिड़ते हुए देखा गया. वार्नर आउट होकर पवेलियन लौट रहे थे तभी एक दर्शक ने उन पर कुछ टिप्पणी की और वार्नर नाराज़ हो गए और दोनों के बीच बहस बढ़ गई. बाद में सुरक्षा गार्ड ने दोनों को अलग किया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption स्टीव स्मिथ और विराट कोहली

स्मिथ बनाम कोहली

मार्च 2017 में बंगलुरू टेस्ट के दौरान जब स्टीव स्मिथ को फील्ड अंपायर ने आउट दिया था तो उन्होंने डीआरएस रेफरल लेने के लिए ड्रेसिंग रूम की ओर मदद के लिए इशारा किया था.

गौरतलब है कि डीआरएस रेफरल में मैदान में मौजूद खिलाड़ियों को ही फ़ैसला लेना होता है और ड्रेसिंग रुम से इस मामले में मदद लेने की इजाज़त नहीं है.

स्मिथ को आउट दिए जाने के बाद उन्होंने पवेलियन की ओर देखा था जिसके बाद विराट समेत टीम इंडिया से उनकी बहस हुई थी.

भारत-ऑस्‍ट्रेलिया के बीच टेस्‍ट सिरीज़ के दौरान विपक्षी कप्‍तान स्‍टीव स्मिथ के साथ हुई इस नोकझोंक को विराट कोहली भूले नहीं और जब ऑस्ट्रेलियाई टीम इसी साल सितंबर में चेन्‍नई में वनडे मैच खेल रही थी और उस दौरान भी स्‍टीव स्मिथ ने रिव्‍यू का फ़ैसला लिया जो ग़लत साबित हुआ तो विराट ने इशारों-इशारों में चुटकी ली.

विराट कोहली विपक्षी कप्तान स्टीव स्मिथ की नकल उतारते नजर आए.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption माइकल स्लेटर अंपायर वेंकटराघवन से बहस करते हुए

द्रविड़ बनाम स्लेटर

2001 के मुंबई टेस्ट को ऑस्ट्रेलियाई टीम के सलामी बल्लेबाज़ माइकल स्लेटर ने विवादित बना दिया था. उन्होंने मैच अंपायर एस वेंकटराघवन से बहस की और राहुल द्रविड़ के ख़िलाफ़ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया.

मैच के दौरान द्रविड़ ने पुल शॉट खेला था जिसे स्लेटर ने डाइव लगाकर लपक लिया. द्रविड़ और अंपायर को स्लेटर के इस कैच को ज़मीन से छूने का अनुमान था, निर्णय टीवी अंपायर को करने को कहा गया.

उन्होंने द्रविड़ को नॉट आउट करार दिया. इसके बाद ही स्लेटर भड़क गए और इन दोनों पर अपना गुस्सा निकाला. हालांकि यह मैच भारत हार गया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption मर्व ह्यूज

मर्व ह्यूज बनाम मियांदाद

स्लेजिंग ऑस्ट्रेलिया में आम मानी जाती है लेकिन ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज़ गेंदबाज़ मर्व ह्यूज इसके लिए खासे बदनाम थे. उनके आक्रामक गेंदबाज़ी को स्लेजिंग करने का उनका तरीका और पैना बना देता था.

ऐसे कई मौके आए जब उन्होंने स्लेजिंग का बेहतरीन इस्तेमाल किया. ह्यूज खुद एक मामले को याद करते हैं जब वो पाकिस्तानी गेंदबाज़ जावेद मियांदाद को गेंद डाल रहे थे.

मियांदाद ने उन्हें कहा कि 'तुम क्रिकेट खेलने के लिए बहुत मोटे हो' और 'तुम्हें तो बस चलाना चाहिए.' मैच में ह्यूज ने मियांदाद को आउट किया और जब वो वापस लौट रहे थे तो ह्यूज ने कमेंट किया, 'टिकट प्लीज़'

ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों के साथ भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर और स्पिनर हरभजन सिंह की भी मैदान पर नोंकझोंक हो चुकी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए