दो भारतीय खिलाड़ियों को CWG से भारत भेजा गया

इरफ़ान थोड़ी और राकेश बाबू इमेज कॉपीरइट Getty Images/Reuters

दो भारतीय खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया में चल रहे राष्ट्रमंडल खेलों में नो-नीडल नीति का उल्लंघन करने पर भारत भेज दिया गया है.

कॉमनवेल्थ गेम्स फ़ेडरेशन ने ट्रिपल जंप लगाने वाले राकेश बाबू और बीस किलोमीटर के धावक इरफ़ान थोड़ी की मान्यता रद्द कर, उन्हें पहली फ़्लाइट से भारत लौटने के लिए कहा गया.

ये सूईयां इन खिलाड़ियों के खेल गांव में स्थित अपार्टमेंट में पाई गईं थी.

ये कॉमनवेल्थ खेलों में भारतीय खिलाड़ियों द्वारा दूसरी बार नो-नीडल पॉलिसी का उल्लंघन है.

एक सफ़ाई कर्मचारी को इन खिलाड़ियों के कमरे में रखे एक कप में सिरंज मिली. और एक ऑस्ट्रेलियाई एंटी-डोपिंग अधिकारी को राकेश बाबू के बेग में भी एक सिरंज मिली.

खेलों की अध्यक्ष लूइस मार्टिन ने कहा कि ये दोनों खिलाड़ी ने मामले की सुनवाई के दौरान 'कमज़ोर और सवालों से बचने वाला' पक्ष रखा.

लूइस मार्टिन ने कहा, "जब हम कहते हैं कि हम नीडल पॉलिसी का सख़्ती से पालन करेंगे, तो करेंगे. ये खिलाड़ी अब बर्ख़ास्त कर वापस भेज दिए गए हैं. "

इससे पहले एक अस्वस्थ बॉक्सर के कमरे में भी सिरंज मिली थी. उस मामले में उन्हें बरी कर दिया गया था क्योंकि भारतीय डॉक्टर का पक्ष था कि बॉक्सर बीमार था और उसे विटामिन का टीका लगाया गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे