पाकिस्तान के इस खिलाड़ी ने भारत से क्यों मांगी मदद?

  • 24 अप्रैल 2018
पाकिस्तान इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान के एक पूर्व हॉकी खिलाड़ी भारत आना चाहते हैं. उन्होंने भारत सरकार से वीज़ा देने की अपील की है.

इस पूर्व खिलाड़ी का नाम है मंसूर अहमद. 49 साल के मंसूर को दिल की परेशानी है और वो भारत में इसका इलाज कराना चाहते हैं.

यूट्यूब पर पोस्ट किए एक वीडियो में मंसूर कहते हैं, "आज मुझे दिल की ज़रूरत है और मैं भारत सरकार की मदद चाहता हूं."

दोनों देशों के तनावपूर्ण संबंधों के बावजूद पाकिस्तान के लोग मेडिकल वीज़ा के लिए आवेदन कर सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट Twitter/S Afridi Foundation

भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्तों के बीच उतार-चढ़ाव आता रहा है.

एक यूट्यूब चैनल से बात करते हुए मंसूर कहते हैं, "जब मैं जवानी में हॉकी खेलता था तो मैंने कई भारतीयों के दिल तोड़े थे. बड़े-बड़े टूर्नामेंट भारत से छीन कर लाया हूं. पर आज मुझे भारत की ज़रूरत है."

उन्होंने भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से अपील की है कि उनके आवेदन को जल्द प्रोसेस किया जाए ताकि वो अपना इलाज करवा सकें.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान में मंसूर को हॉकी लेजेंड समझा जाता है. वो नेशनल टीम में गोलकीपर थे और उन्होंने 300 से अधिक अंतरराष्ट्रीय मैच खेले थे.

उन्होंने 1992 के ओलंपिक में कांस्य पदक भी जीता था और 1994 में सिडनी में हुए हॉकी वर्ल्ड कप में विजेता टीम के सदस्य रहे थे.

मंसूर कहते हैं कि जब वो भारत जाएंगे, तो उन जगहों पर जरूर जाएंगे जहां उन्होंने मैच जीते थे. उन्होंने भारतीय हॉकी टीम के कप्तान रहे धनराज पिल्लै से भी मिलने की इच्छा जताई है.

ये भी पढ़ें:

जब फ़ाइनल में भिड़ीं सायना नेहवाल और पीवी सिंधु

राष्ट्रमंडल खेल: भारत को सोना मिला, पाकिस्तान को क्या?

20 साल पहले सचिन की वो करिश्माई पारी

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे