फ्रांस ने अर्जेंटीना को बाहर का रास्ता दिखाया, मेसी का सपना चकनाचूर

  • 1 जुलाई 2018
इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption फ्रांस की ओर से किलिएन बैप्पे ने दो गोल दागे

वर्ल्ड कप फ़ुटबॉल के पहले नाकआउट मुक़ाबले में फ्रांस ने अर्जेंटीना को 4-3 से हरा दिया है.

एक बेहद रोमांचक मुक़ाबले में सात गोल देखने को मिले. हाफ़ टाइम तक दोनों टीमों के बीच मुक़ाबला 1-1 से बराबरी पर था, लेकिन दूसरे हाफ़ में एक समय पिछड़ने के बाद फ्रांस ने आक्रामक फ़ुटबॉल खेलते हुए तीन गोल दागे. इसमें दो गोल किलिएन बैप्पे ने दागे.

इंजरी टाइम में अर्जेंटीना की ओर से एग्यूरो ने ज़रूर गोल दागा लेकिन तब तक मुक़ाबला हाथ से निकल चुका था.

पेनल्टी से पहला गोल

मैच की शुरुआत से ही फ़्रांस अर्जेंटीना पर हावी रहा. खेल के नौवें मिनट में ही उसके फॉरवर्ड खिलाड़ी एंटोनी ग्रीजमैन का शॉट गोलपोस्ट से टकरा कर वापस आ गया.

इंसुलिन किट लेकर चलने वाला ये फ़ुटबॉल खिलाड़ी

फ़ीफ़ा: अब तक के बड़े उलटफेर और बनते बिगड़ते रिकॉर्ड्स

इमेज कॉपीरइट Reuters

11वें मिनट में मार्को रोजो ने अर्जेंटीना के बॉक्स में फ़्रांस के मिडफील्डर किलिएन बैप्पे को फाउल कर गिरा दिया जिसके परिणामस्वरूप फ़्रांस को पेनाल्टी मिली. खेल के 13वें मिनट में एंटोनी ग्रीजमैन ने पेनाल्टी को गोल में तब्दील कर अपनी टीम को बढ़त दिला दी.

बराबरी पर लाए मारिया

इसके बाद मैच पर अर्जेंटीना ने अपनी पकड़ बनानी शुरू कर दी और खेल के 41वें मिनट में अर्जेंटीना के मिडफील्डर एंजेल डि मारिया ने 30 गज़ की दूरी से एक बेहतरीन गोल कर अपनी टीम को बराबरी पर ला दिया. डि मारिया ने इस टूर्नामेंट में अपना दूसरा गोल दागा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पहले हाफ में मैच 1-1 की बराबरी पर छूटा.

अर्जेंटीना को 8 मिनट की बढ़त

दूसरे हाफ के 48वें मिनट में मेसी के दिए पास पर मर्काडो ने गोल दाग कर अर्जेंटीना को 2-1 से बढ़त दिला दी लेकिन सिर्फ़ 8 मिनट बाद ही फ़्रांस ने भी दूसरा गोल दाग दिया और अपनी टीम को बराबरी पर पहुंचा दिया.

खेल के 57वें मिनट में फ़्रांस की ओर से दूसरा गोल डिफेंडर बेंजामिन पावर्ड ने किया. वर्ल्ड कप में पावर्ड का यह पहला गोल था.

चार मिनट में बैप्पे का डबल

इसके बाद फ़्रांस मैच में हावी हो गया और 64वें मिनट में मिडफील्डर किलिएन बैप्पे ने अर्जेंटीना के गोलकीपर फ्रांको अर्मानी को छकाते हुए बेहतरीन गोल से अपनी टीम को 3-2 से बढ़त दिला दी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

चार मिनट बाद बैप्पे ने एक बार फिर शानदार फील्ड गोल किया और इसके साथ ही फ़्रांस की बढ़त 4-2 हो गई.

खेल के 84वें मिनट में लियोनेल मेसी को शानदार मौका बनाया लेकिन वो उसे गोल में तब्दील नहीं कर सके.

दूसरे हाफ़ के अंतिम 15 मिनट में अर्जेंटीना ने लगातार अपना आक्रमण जारी रखा. उसे दो कॉर्नर भी मिले लेकिन दोनों ही बार मिले इस मौके को वो भुना नहीं सकी और एक भी गोल नहीं दाग सकी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मेसी की नाकामी

90 मिनट का खेल खत्म होने के बाद चार मिनट का इंजरी टाइम मिला और इसके तीसरे मिनट में अर्जेंटीना के फॉरवर्ड खिलाड़ी सर्गियो एग्यूरो ने अपनी टीम के लिए तीसरा गोल किया.

लेकिन इसके बाद अर्जेंटीना की टीम और गोल नहीं दाग सकी. इसके साथ ही 2018 वर्ल्ड कप में मेसी की टीम का सफ़र खत्म हो गया.

अर्जेंटीना के कप्तान और उनके सबसे मज़बूत खिलाड़ी लियोनेल मेसी इससे पहले तीन वर्ल्ड कप खेल चुके हैं लेकिन नॉकआउट स्टेज पर उनका प्रदर्शन हमेशा ही ख़राब रहा है.

मेसी ने नॉकआउट स्टेज में आज तक एक भी गोल नहीं किया है और उन्होंने अपने रिकॉर्ड को यहां भी बरकरार रखा.

वर्ल्ड कप से अर्जेंटीना बाहर, मेसी का सपना चकनाचूर

इस हार के साथ ही मौजूदा वर्ल्ड कप से अर्जेंटीना बाहर हो गया है, जबकि जीत के साथ फ्रांस की टीम क्वार्टर फ़ाइनल में पहुंच गई है.

इसके साथ ही फ़्रांस ख़िताब की ओर कदम आगे बढ़ाते हुए क्वार्टरफ़ाइनल में पहुंच गया जहां उसका मुकाबला उरुग्वे और पुर्तगाल के बीच नॉकआउट के विजेता से होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए