फुटबॉल विश्व कप: फाइनल में फ्रांस, बेल्जियम का दिल टूटा

  • 11 जुलाई 2018
इमेज कॉपीरइट Reuters

फ्रांसीसी टीम ने बेल्जियम को 1-0 से हराकर फीफा विश्व कप 2018 के फाइनल में प्रवेश कर लिया है.

रविवार को होने वाले फाइनल में उसका मुक़ाबला इंग्लैंड और क्रोएशिया के बीच आज होने वाले सेमीफाइनल के विजेता से होगा.

फ्रांस की तरफ़ से एकमात्र गोल सैमुअल उमटीटी ने 52वें मिनट में किया. उन्होंने एंटॉयने ग्रीज़मन के कॉर्नर को अपने शानदार हेडर से गोल पोस्ट में डाल दिया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पूर्व चेल्सी फुटबॉलर पैट नेविन ने बीबीसी रेडियो 5 लाइव पर कहा कि भले ही बेल्जियम की टीम ने 64 फीसदी समय तक गेंद को अपने क़ब्ज़े में रखा हो, लेकिन फ्रांसीसी टीम यह मैच जीतने की हक़दार थी.

उन्होंने कहा, "दूसरे हाफ में मुझे एक बार भी नहीं लगा कि बेल्जियम की टीम स्कोर करने वाली है. फ्रांसीसी टीम अच्छी है और बेहतर होती जा रही है."

इमेज कॉपीरइट Reuters

बेल्जियम के खिलाड़ियों के पास लगभग दो-तिहाई समय तक गेंद रही, लेकिन वे गोल के सिर्फ नौ प्रयास कर पाए. जबकि फ्रांस के क़ब्ज़े में बहुत कम समय तक गेंद रही, फिर भी उन्होंने गोल पोस्ट को निशाने पर लेकर 19 कोशिशें की.

पिछले छह विश्व कप में (साल 1998 के बाद से) फ्रांस तीसरी बार फाइनल मुक़ाबला खेलेगा. इस दौरान कोई और टीम इतनी बार फाइनल में नहीं पहुंची है. इस बीच जर्मनी और ब्राजील दो-दो बार फाइनल खेल चुके हैं.

इंग्लैंड के मिडफील्डर रहे डैनी मर्फी ने बीबीसी से कहा, "किस्मत ने भी बेल्जियम के खिलाड़ियों का साथ नहीं दिया. जब सामने वाली टीम पीछे हटकर रक्षा कर रही हो तो आपको ख़तरे उठाकर टीम को खोलना होता है. लेकिन वे ऐसा नहीं कर सके."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए