कप्तान कोहली का इंग्लैंड में पहला टेस्ट शतक

  • 2 अगस्त 2018
विराट कोहली इमेज कॉपीरइट PA

बर्मिंगम में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन गुरुवार को भारतीय कप्तान विराट कोहली ने शतकीय पारी खेली. यह उनका टेस्ट मैचों में 22वां शतक है और इंग्लैंड में कोई पहला टेस्ट शतक है.

2014 में इंग्लैंड दौरे पर आए कोहली को काफ़ी संघर्ष करना पड़ा था तब उन्होंने 10 पारियों में केवल 134 रन बनाए थे लेकिन आज उन्होंने ग़ज़ब की कप्तानी पारी खेली.

कप्तान कोहली ने 225 गेंदों में 149 रन की पारी खेली और भारतीय टीम को 274 रन के सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया. भारतीय टीम का अंतिम विकेट कोहली के रूप में गिरा. उन्हें आदिल रशीद ने कैच आउट कराया. भारत पर इंग्लैंड की केवल 13 रनों की बढ़त है.

इसके बाद अपनी दूसरी पारी खेलने उतरी इंग्लैंड की टीम को चौथे ओवर के चौथी गेंद पर पहला झटका लगा. इस बार फिर अश्विन की फ़िरकी ने कमाल दिखाया.

इमेज कॉपीरइट PA
Image caption कुक को अश्विन ने शून्य पर क्लीन बोल्ड किया

उन्होंने शून्य पर एलस्टेयर कुक को बोल्ड किया. इसके साथ ही दूसरे दिन का खेल समाप्त हो गया. इस समय इंग्लैंड की टीम का स्कोर एक विकेट के नुकसान पर नौ रन है और कीटन जेनिंग्स पांच रन बनाकर क्रीज़ पर हैं.

आज दिन में इंग्लैंड के ऑल आउट होने के बाद जब भारतीय टीम खेलने उतरी तो उसके शुरुआती तीन बल्लेबाज़ मुरली विजय (20), शिखर धवन (26) और के.एल. राहुल (4) सिर्फ़ टीम के स्कोर में 50 रन का ही योगदान दे पाए.

चौथे नंबर पर खेलने आए विराट कोहली ने भारतीय टीम को एक छोर पर संभाले रखा जबकि दूसरे छोर पर विकेट गिरते रहे.

इससे पहले दिन में नौ विकेट पर 285 रन के स्कोर से आगे खेलने उतरी इंग्लैंड की टीम पहली पारी में 287 रनों पर ऑल आउट हो गई थी. इंग्लैंड का दसवां विकेट सैम कुरैन के रूप में गिरा. मोहम्मद शमी ने उन्हें 24 रन के स्कोर पर कैच आउट कराया.

यह इंग्लैंड का 1000वां टेस्ट मैच है. पहली पारी में इंग्लैंड के बल्लेबाज़ भी ख़ासा कमाल नहीं दिखा पाए थे. कप्तान जो रूट ने सबसे अधिक 80 रन बनाए थे जबकि जॉनी बेयरस्टॉ ने 70 रन बनाए थे.

इंग्लैंड की टीम को 287 रन पर ऑल आउट करने में स्पिनर आर. अश्विन का बड़ा योगदान रहा जिन्होंने चार विकेट लिए. उनके अलावा तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद शमी ने तीन विकेट निकाले.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे