एशियन गेम्स 2018: स्वप्ना और अरपिंदर सिंह ने भारत को दिलाया गोल्ड

  • 29 अगस्त 2018
इमेज कॉपीरइट Reuters

जकार्ता में चल रहे एशियन गेम्स में भारत की स्वप्ना बर्मन ने गोल्ड जीतकर नया इतिहास रचा है.

एथियन गेम्स के हेप्टाथलॉन में पहली बार भारत को गोल्ड मिला है.

इसके अलावा भारत के अरपिंदर सिंह ने पुरुषों के ट्रिपल जंप में गोल्ड जीता है.

48 वर्षों में पहली बार किसी भारतीय ने ट्रिपल जंप में गोल्ड जीता है.

इसके साथ ही इस एशियन गेम्स में भारत के पदकों की कुल संख्या 54 हो गई है. इनमें 11 गोल्ड, 20 सिल्वर और 23 ब्रॉन्ज़ मेडल हैं.

21 वर्षीय स्वप्ना बर्मन ने दो दिनों तक चले सात इवेंट्स में कुल 6026 अंक हासिल किए.

प्रदर्शन

मंजीत ने लगाई 800 मीटर की स्वर्णिम रेस

इतिहास रचने से चूकीं सिंधु, रजत पर थमा रथ

गोल्ड मेडल जीतने के क्रम में स्वप्ना ने हाई जंप और जेवलिन थ्रो में जीत हासिल की. शॉट पुट और लॉन्ग जंप में उन्होंने दूसरा स्थान हासिल किया.

उनका सबसे कमज़ोर प्रदर्शन 100 मीटर में रहा, जहाँ वे पाँचवें स्थान पर रहीं, जबकि 200 मीटर में उन्होंने सातवाँ स्थान हासिल किया.

गोल्ड हासिल करने के लिए स्वप्ना को 800 मीटर की दौड़ में अच्छा प्रदर्शन करना था, वो इस दौड़ में चौथे स्थान पर रहीं.

पिछले साल भुवनेश्वर में एशियन एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के दौरान स्वप्ना गिर गईं थी. लेकिन इस बार ऐसा नहीं हुआ.

ट्रिपल जंप में गोल्ड

इमेज कॉपीरइट AFP

दूसरी ओर अरपिंदर सिंह ने ट्रिपल जंप में भारत को गोल्ड दिलाया.

उन्होंने 16.77 मीटर की छलांग लगाई.

अरपिंदर को कई प्रतियोगिताओं में बिना मेडल के ही रहना पड़ा था, जबकि 2014 के राष्ट्रमंडल खेलों में उन्होंने कांस्य पदक जीता था.

भारत को 1970 में ट्रिपल जंप में गोल्ड मेडल मिला था और ये पदक दिलाया था मोहिंदर सिंह गिल ने.

ये भी पढ़ें: कौन हैं भारत की नई 'उड़न परी' हिमा दास

बजरंग पुनिया ने भारत को दिलाया पहला गोल्ड

विनेश फोगाट ने गोल्ड जीतकर रचा इतिहास

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे