हॉकी विश्व कपः 5-0 के बड़े अंतर से भारत ने दक्षिण अफ़्रीका को हराया

  • 28 नवंबर 2018
हॉकी विश्व कप 2018 इमेज कॉपीरइट TWITTER/HOCKEY INDIA

भारतीय टीम ने हॉकी विश्व कप 2018 की शानदार शुरुआत की है. अपने पहले मुक़ाबले में भारत ने दक्षिण अफ़्रीका पर 5-0 की एकतरफ़ा जीत दर्ज की है.

भारतीय टीम ने 10वें मिनट में अपना पहला गोल किया.

खेल के 9वें मिनट में एक भारतीय खिलाड़ी को दक्षिण अफ़्रीकी घेरे में ब्लॉक किया गया. इस पर भारतीय टीम ने रिव्यू लिया और उसे पेनल्टी कॉर्नर दिया गया. भारतीय टीम के स्ट्राइक पर दक्षिण अफ़्रीकी गोलकीपर ने बेहतरीन बचाव किया लेकिन गेंद मनदीप सिंह के सामने आ गई और भारतीय स्ट्राइकर ने रिबाउंड पर टीम का खाता खोल दिया.

10वें मिनट में दागे गए इस पहले गोल के ठीक दो मिनट बाद ही आकाशदीप ने एक शानदार फील्ड गोल दाग कर टीम की बढ़त 2-0 कर दी.

पहले क्वार्टर में भारतीय टीम 2-0 से आगे रही. दूसरे क्वार्टर में दोनों ही टीमों ने कुछ अच्छे मूव बनाए लेकिन गोल करने में नाकाम रहीं.

तीसरे क्वार्टर के शुरुआत में ही भारतीय टीम को पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन वो उसे गोल में नहीं बदल सकी.

भारतीय महिला टीम बनी एशियन हॉकी चैंपियन

इमेज कॉपीरइट @HOCKEY INDIA
Image caption विश्व कप हॉकी 2018 में मनप्रीत सिंह के हाथों में है भारतीय टीम की कप्तानी

लेकिन चौथे क्वार्टर के शुरू होने के साथ ही भारतीय टीम ने तीन मिनट में लगातार तीन गोल किए.

खेल के 43वें मिनट में सिमरनजीत ने तीसरा और 45वें मिनट में ललित ने चौथा गोल किया. 46वें मिनट में सिमरनजीत ने टीम का पांचवा और अपना दूसरा गोल दागा.

इसके तुरंत बाद ही भारतीय टीम को एक और पेनल्टी कॉर्नर भी मिला. हालांकि वो उसे गोल में बदल नहीं सकी.

60 मिनट के इस पूरे खेल में भारतीय टीम की तरफ़ से दो गोल दागने वाले सिमरनजीत सिंह को 'मैन ऑफ़ द मैच' चुना गया.

अब भारतीय टीम का अगला मुक़ाबला दो दिसंबर को बेल्जियम के साथ होगा.

भारतीय हॉकी टीम ने पाकिस्तान को 4-0 से हराया

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption बेल्जियम के लिए फेलिक्स डेनायर और कप्तान थॉमस ब्रिल्स ने गोल किये

बेल्जियम की विजयी शुरुआत

इससे पहले ओडिशा के कलिंगा स्टेडियम में खेले गए पुरुष हॉकी विश्व कप के उद्घाटन मैच में ओलंपिक रजत पदक विजेता बेल्जियम ने कनाडा को 2-1 से हरा दिया.

ग्रुप-सी के इस मैच में बेल्जियम के लिए फेलिक्स डेनायर और कप्तान थॉमस ब्रिल्स ने गोल किया, वहीं कनाडा के लिए मार्क पियर्सन ने एकमात्र गोल किया.

मैच के दौरान बेल्जियम की टीम को छह पेनल्टी कॉर्नर मिले लेकिन वो एक में भी सफल नहीं रही. उसके दोनों ही फील्ड गोल किए.

कनाडा अब दो दिसंबर को दक्षिण अफ़्रीका से मैच खेलेगा, वहीं बेल्जियम का अगला मुक़ाबला भारत से होगा.

वर्ल्ड कप हॉकी: भारतीय टीम अपने घर में चमत्कार कर पाएगी?

इमेज कॉपीरइट @FIH_Hockey

भारत 1975 का चैंपियन

यह भारतीय टीम का 14वां विश्व कप है. भारतीय टीम अब तक केवल एक बार विश्व कप हॉकी का खिताब जीत सकी है. 1975 में उसने पाकिस्तान को रोमांचक मुक़ाबले में 2-1 से हराकर हॉकी विश्व कप जीता था.

वहीं पाकिस्तान ने हॉकी विश्व कप को सर्वाधिक चार बार जीता है. इसके अलावा नीदरलैंड्स और ऑस्ट्रेलिया ने भी तीन-तीन बार जबकि जर्मनी ने दो बार यह टूर्नामेंट जीते हैं. ऑस्ट्रेलियाई टीम मौजूदा चैंपियन है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार