IND vs AUS: टिम पेन पर ज़ुबानी हमले से ट्विटर पर छाए ऋषभ पंत

  • 29 दिसंबर 2018
ऋषभ पंत, टिम पेन इमेज कॉपीरइट Getty Images

मेलबर्न टेस्ट में भारतीय टीम जीत से सिर्फ दो विकेट दूर है. शुक्रवार को चौथे दिन का खेल ख़त्म होने तक ऑस्ट्रेलियाई पारी के 8 विकेट गिर गए थे और जीत के लिए उसे 141 रन और बनाने थे.

हालांकि इस मैच की एक ज़ुबानी जंग सोशल मीडिया पर ख़ासी चर्चा बटोर रही है.

ये शब्दबाण ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन और भारतीय विकेटकीपर ऋषभ पंत के बीच चले.

दरअसल गुरुवार को जब भारतीय विकेटकीपर ऋषभ पंत बल्लेबाज़ी करने आए थे तो टिम पेन ने विकेटों के पीछे से उन्हें यह कहते हुए छेड़ा था कि अब तो एमएस धोनी वनडे टीम में वापस आ गए हैं.

शुक्रवार को जब टिम पेन बल्लेबाज़ी करने आए तो ऋषभ पंत बदला लेने से नहीं चूके.

पहले देखिए गुरुवार को टिम पेन ने ऋषभ से क्या कहा था:

"एक बात बताऊं. वनडे सीरीज के लिए महेंद्र सिंह धोनी आ गए हैं. इस लड़के (ऋषभ पंत) को हरिकेंस (हॉबर्ट) की टीम में शामिल करना चाहिए. उन्हें एक बल्लेबाज़ की ज़रूरत है. इससे तुम्हारा (पंत का) ऑस्ट्रेलिया में हॉलिडे बढ़ जाएगा. हॉबर्ट खूबसूरत शहर है. इसे एक वॉटर फ्रंट अपार्टमेंट दिलवाते हैं."

पेन यहीं नहीं रुके. अगली गेंद के बाद उन्होंने विकेटों के पीछे से कहा, "क्या तुम मेरे बच्चों का ख्याल रखोगे. मैं अपने बीवी को फ़िल्म दिखाने ले जाऊंगा तुम मेरे बच्चों का ख्याल रखना."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

शुक्रवार को ऋषभ पंत ने कैसे लिया बदला?

"आज हमारे पास एक विशेष मेहमान है. आज स्पेशल अपीयरेंस है. कप्तान की ओर से कोई ज़िम्मेदारी नहीं, हमेशा ज़िम्मेदारी से भागना! बहुत मुश्किल, बहुत मुश्किल! शायद यहां से जड्डू गेंद फेंकेगा. कमऑन जड्डू, कम ऑन."

सिली पॉइंट पर खड़े मयंक अग्रवाल को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, "कम ऑन मॉन्की, हमारे पास एक विशेष मेहमान है. क्या तुमने कभी एक अस्थायी कप्तान के बारे में सुना है? बताओ मॉन्क! मैं तो देख रहा हूं. इसे आउट करने के लिए कुछ नहीं चाहिए. बस गेंद फेंको. इसे बातें करना पसंद है. ये वही कर सकता है, सिर्फ़ बातें छौंकना."

दोनों ही घटनाओं के समय विकेटों के पीछे से बल्लेबाज़ को छेड़ा गया लेकिन बल्लेबाज़ ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी. हालांकि अंपायर इयान गुल्ड ने पंत को बुलाकर दो बार उनसे बात की.

भारत में ट्विटर पर टिम पेन और ऋषभ पंत दोनों ही पहले और दूसरे नंबर पर ट्रेंड करने लगे.

पेट्री वान ज़ाइल ने लिखा, "पेन को अपने बच्चों का ख्याल रखने वाला मिल गया. इयान गुल्ड."

सौरभ पंत ने लिखा, "ये लड़ाई और अजीब होती जा रही है. पेन पंत से अपने बच्चों का ख्याल रखने के लिए पूछ रहे हैं और पंत उन्हें अस्थायी कप्तान बता रहे हैं. जैसा भी हो, फ्रीलांस नौकरियों के लिए यह अच्छा विज्ञापन है."

इससे पहले भी ऋषभ पंत विकेटों के पीछे से पैट कमिंस को भी छेड़ा था जिसकी ट्विटर पर ख़ूब चर्चा हुई थी.

क्रिकेट के मैदान पर छींटाकशी, बल्लेबाज़ों से मज़ाक, उनकी एकाग्रता भंग करने और उकसाने की कोशिशें आम हैं. हालांकि कई बार इसने नस्लभेदी रूप भी लिया है और इस पर कई विवाद हो चुके हैं.

मेलबर्न टेस्ट में भारत ने ऑस्ट्रेलिया के सामने 399 रनों लक्ष्य रखा था लेकिन शनिवार का खेल ख़त्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने 258 रनों पर 8 विकेट खो दिए. भारत की ओर से रविंद्र जडेजा ने तीन, बुमराह और शमी ने दो-दो विकेट लिए.

रविवार को जब दोनों टीमें खेलने उतरेंगी तो भारतीय टीम को जीत के लिए महज़ दो विकेट की दरकार होगी.

मौजूदा टेस्ट सिरीज़ एक-एक की बराबरी पर है और इसके बाद दोनों टीमें एक और टेस्ट खेलेंगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार