IPL 2019: वार्नर-बेयरस्टो के तूफ़ान से पस्त विराट कोहली की टीम

  • 31 मार्च 2019
विराट कोहली इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption विराट कोहली

आईपीएल-12 में रविवार को खेले गए पहले मुक़ाबलें में मेज़बान सनराइजर्स हैदराबाद ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को ऐसी मात दी. जिसे वह लंबे समय तक भूल नहीं सकेगी.

अक्सर अपनी आक्रामकता के लिए जाने-जाने वाले कप्तान विराट कोहली की टीम को हैदराबाद के हाथों 118 रन से करारी मात का सामना करना पड़ा.

बैंगलोर के सामने जीत के लिए 232 रनों का विशाल लक्ष्य था जिसके जवाब में वह मैच की एक गेंद शेष रहते 113 रनों पर ढेर हो गई.

बैंगलोर की हार दीवार पर लिखी इबारत की तरह तब साफ़ नज़र आने लगी थी जब उसके पांच विकेट केवल 30 रन पर गिर चुके थे.

इनमें पार्थिव पटेल, सिमरोन हैटमायर, कप्तान विराट कोहली, एबी डिविलियर्स और मोइन अली के विकेट शामिल थे.

इसके बाद कोलिन डि ग्रैंडहोम ने 37, प्रयास बर्मन ने 19 और उमेश यादव ने 14 रन बनाकर जैसे-तैसे टीम को 100 रन से अधिक पर पहुंचाया.

नबी-संदीप का कमाल

हैदराबाद के गेंदबाज़ों के सामने उसकी पूर पारी 19.5 ओवर में महज़ 113 रन पर सिमट गई. हैदराबाद के मोहम्मद नबी ने 11 रन देकर चार और संदीप शर्मा ने 19 रन देकर तीन विकेट हासिल किए.

मैच ख़त्म होने के बाद बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि हैदराबाद ने उनकी टीम को क्रिकेट के हर क्षेत्र में पीछे छोड़ा. इसके साथ ही बैंगलोर के अभी से अंतिम चार में पहुंचने की संभावनाओं पर भी सवाल खड़े हो गए हैं.

यह बैंगलोर की इस आईपीएल मे लगातार तीसरी हार थी.

पहले मुक़ाबले में चेन्नई के ख़िलाफ़ केवल 70 रन पर सिमटने वाली बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली के पास हैदराबाद में मिले परिणाम के बाद कुछ ख़ास कहने को था भी नहीं.

ये भी पढ़ें: टीम इंडिया को सेना की टोपी पहनने की अनुमति दी थी: ICC

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption डेविड वार्नर

हैराबाद की जिस पिच पर वार्नर और बेयरस्टो ने उनके गेंदबाज़ों को नौसिखिया साबित किया उसी विकेट पर हैदराबाद के गेंदबाज़ों ने विराट के बल्लेबाज़ों को एक के बाद एक पेवेलियन की राह दिखाकर साबित कर दिया कि बैंगलोर की बल्लेबाज़ी में कहीं ना कहीं बड़ी गड़बड़ है.

इससे पहले हैदराबाद ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाज़ी की दावत का पूरा लुत्फ़ उठाया.

हैदराबाद के सलामी बल्लेबाज़ डेविड वार्नर ने ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी करते हुए केवल 55 गेंद पर पांच चौके और पांच छक्कों की मदद से नाबाद 100 रन बनाए.

उनके जोड़ीदार जॉनी बेयरस्टो ने भी केवल 56 गेंदों पर 12 चौके और सात छक्कों के सहारे 114 रन बनाए. इन दोनों बल्लेबाज़ों के बीच पहले विकेट के लिए 185 रनों की विशाल साझेदारी भी हुई.

इन दोनों बल्लेबाज़ों ने अपनी बल्लेबाज़ी से हैदराबादी शाम रंगीन बना दी.

ये भी पढ़ें: वर्ल्ड कप में कोहली को क्यों चाहिए धोनी का साथ

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption डेविड वार्नर

बैंगलोर के ख़िलाफ़ नाबाद 100 रन बनाने से पहले वार्नर ने कोलकाता के ख़िलाफ 85 और राजस्थान रॉयल्स के ख़िलाफ 69 रनों की पारी खेली थी.

ऐसा लगाता है कि वार्नर ने तो इन तीन पारियों से ही विश्व कप के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम में अपना दावा मज़बूत कर लिया है. गेंद से छेड़छाड़ के आरोप से मुक्ति पाने के बाद लगता है अब उनका ग़ु्स्सा विरोधी गेंदबाज़ों की गेंद पर ही उतर रहा है.

स्टेडियम में मौजूद हर क्रिकेट प्रेमी अपने प्रिय खिलाड़ियों के हर करतब पर तालियां बजा रहा था. वार्नर और बेयरस्टो ने बैंगलोर के उमेश यादव, मोइन अली, युज्वेंद्र चहल और दूसरे गेंदाबाज़ों को क्लब क्रिकेट सरीखा साबित कर दिया.

सनराइजर्स हैदराबाद की तीन मैचों में यह दूसरी जीत रही.

ये भी पढ़ें: IPL-2019 में ‘चौकीदार चोर है’ के नारे!

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार