आईपीएल 2019: श्रेयस और स्मिथ की कप्तानी पारियों से मेज़बान बने विजेता

  • आदेश कुमार गुप्त
  • खेल पत्रकार, बीबीसी हिंदी के लिए
श्रेयस अय्यर और स्टीव स्मिथ

इमेज स्रोत, Getty Images

आईपीएल-12 में शनिवार को दो मुक़ाबले खेले गए और दोनो ही मुक़ाबलों में मेज़बान टीम ने जीत दर्ज़ की.

पहले मुक़ाबले में राजस्थान रॉयल्स ने एक बड़ा फ़ैसला करते हुए कप्तानी की ज़िम्मेदारी अजिंक्य रहाणे की जगह ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ के कंधो पर ड़ाली.

इस फ़ैसले का परिणाम भी शानदार रहा और राजस्थान ने मुंबई इंडियंस को जयपुर में पांच विकेट से मात दी.

इसके बाद दिन के दूसरे मुक़ाबले में दिल्ली कैपिटल्स ने अपने ही घर फ़िरोज़शाह कोटला मैदान में किंग्स इलेवन पंजाब को पांच विकेट से हराया.

दिल्ली के सामने जीत के लिए 164 रनों का लक्ष्य था जो उसने शिखर धवन के 56 रन और कप्तान श्रेयस अय्यर के नाबाद 58 रनों की मदद से 19.4 ओवर में पांच विकेट खोकर हासिल कर लिया.

इससे पहले किंग्स इलेवन पंजाब ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में सात विकेट खोकर 163 रन बनाए.

पंजाब के सलामी बल्लेबाज़ क्रिस गेल ने 79 और मध्यम क्रम में मनदीप सिंह ने 30 रन बनाए. गेल ने अपने 69 रन के लिए 37 गेंदों पर छह चौके और पांच छक्कों का सहारा लिया.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

क्रिस गेल

दिल्ली की जीत फिर भी कुछ सवाल

दिल्ली ने जीत तो ज़रूर हासिल की लेकिन इसके लिए उसे अच्छा-खासा पसीना बहाना पड़ा. दिल्ली की पारी में अंतिम तीन ओवरों हालात ऐसे बन गए थे कि अगर पंजाब एक विकेट और चटका देती तो शायद मैच का नतीजा ही बदल जाता.

दरअसल दिल्ली के बल्लेबाज़ कोलिन इनग्राम जब बल्लेबाज़ी करने के लिए मैदान में उतरे तब दिल्ली का स्कोर 15.1 ओवर के बाद तीन विकेट खोकर 128 रन था. यानि दिल्ली को जीत के लिए महज़ 36 रनों की ज़रूरत थी.

पारी के 18वें ओवर में इनग्राम का बल्ला बोला और उन्होंने तेज़ गेंदबाज़ हर्डस विलजोइन की गेंदों पर तीन चौके लगाए. इस ओवर में बने 13 रन ने दिल्ली की जीत की राह आसान की.

लेकिन इसके बाद अगले ओवर में मोहम्मद शमी ने महज़ चार दिए. उनके इस ओवर में अक्षर पटेल अजीबोग़रीब अंदाज़ में रन आउट हुए. उन्होंने शमी की गेंद पर शॉट लगाया और रन लेने के लिए दौड पड़े लेकिन दूसरा रन लेने की कोशिश में वह वापसी में शमी से टकरा गए.

ख़ैर अंतिम ओवर में दिल्ली को जीत के लिए केवल छह रनों की ज़रूरत थी. दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने चौथी गेंद पर चौके की मदद से मैच समाप्त किया. जीत भले ही दिल्ली को मिली लेकिन इसके बावजूद उसकी कुछ चिंताए भी खड़ी कर दी हैं.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

पृथ्वि शॉ

दिल्ली के लिए सलामी बल्लेबाज़ पृथ्वि शॉ कुछ ख़ास नहीं कर पा रहे है तो वहीं ऋषभ पंत भी बड़ी पारी खेलने में नाकाम हो रहे हैं. अभी तक बल्लेबाज़ी का भार कप्तान श्रेयस अय्यर ने ही उठाया है.

पृथ्वि शॉ ने पहले ही मैच में कोलकाता के ख़िलाफ़ 99 रन ज़रूर बनाए लेकिन इसके बाद से उनका बल्ला लगभग ख़ामोश ही है.

इमेज स्रोत, Alamy

इमेज कैप्शन,

अजिंक्य रहाणे

स्टीव स्मिथ की कप्तानी

दिन के पहले मुक़बले में राजस्थान रॉयल्स ने मुंबई इंडियंस का जीत का रथ रोका और उसे बेहद आसानी से अपने ही घर जयपुर में पांच विकेट से हराया.

इस मुक़ाबले में इस बार आईपीएल में लगातार हार से परेशान राजस्थान ने टूर्नामेंट के बीच में ही अजिंक्य रहाणे की जगह ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ को कप्तानी सौंप दी.

उनका यह दांव कम से कम शनिवार को तो सही पड़ा. स्टीव स्मिथ ने टॉस जीतकर मुंबई इंडियंस को पहले बल्लेबाज़ी के लिए बुलाया.

अपने नए कप्तान के फ़ैसले को सही साबित करते हुए राजस्थान के गेंदबाज़ों ने मुंबई इंडियंस को निर्धारित 20 ओवर में पांच विकेट पर 161 रन पर रोक दिया.

मुंबई के सलामी बल्लेबाज़ और फॉर्म में चल रहे क्विंटन डी कॉक ने 47 गेंदों पर छह चौके और दो छक्कों की मदद से 65 रन बनाए. उनके अलावा सूर्यकुमार यादव ने 34 और हार्दिक पांड्या ने 34 रन बनाए.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

स्टीव स्मिथ और बेन स्टोक्स

इनके अलावा मुंबई का कोई और बल्लेबाज़ राजस्थान के गेंदबाज़ों का सामना नहीं कर सका.

इसके बाद राजस्थान ने जीत के लिए 162 रनों का लक्ष्य ख़ुद कप्तान स्टीव स्मिथ के नाबाद 59 और युवा बल्लेबाज़ रियान पराग के 43 रनों की मदद से 19.1 ओवर में पांच विकेट खोकर हासिल कर लिया.

इनके अलावा सलामी बल्लेबाज़ संजू सैमसन ने भी 35 रनों का महत्वपूर्ण योगदान दिया.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

डेविड वार्नर स्टीव स्मिथ

इसके साथ ही यह भी साबित हो गया कि भले ही स्टीव स्मिथ गेंद से छेडछाड़ के कारण एक साल तक क्रिकेट से दूर रहे लेकिन उनकी कप्तानी के गुण उनसे दूर नहीं गए हैं.

स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की वापसी ऑस्ट्रेलियाई टीम में भी हो गई है और वह विश्व कप में अपनी टीम की सबसे बड़ी उम्मीद भी होंगे.

स्मिथ ने गेंदबाज़ी में लगातार परिवर्तन किया. हांलाकि एक समय दूसरे विकेट के लिए मुंबई के सूर्यकुमार यादव और क्विंटन डी कॉक ने 97 रनों का साझेदारी की, लेकिन तब तक 13.5 ओवर हो चुके थे.

ज़ाहिर है यह स्टीव स्मिथ की कप्तानी का ही परिणाम था कि बाकि बल्लेबाज़ उनके बुने जाल में फंसते चले गए. राजस्थान के लिए गेंदबाज़ी में श्रेयस गोपाल और जोफ्रा आर्चर तुरूप के इक्के साबित हुए.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

जोफ्रा आर्चर

श्रेयस गोपाल ने चार ओवर में केवल 21 रन देकर दो और जोफ्रा आर्चर ने भी चार ओवर में केवल 22 रन देकर एक विकेट हासिल किया.

वैसे यह भी कमाल की बात है कि इस बार आईपीएल में बेहद ख़राब प्रदर्शन करने वाली राजस्थान ने दोनों मुक़ाबलो में मुंबई को मात दी.

इससे पहले राजस्थान ने मुंबई को उसी के घर वानखेडे स्टेडियम में चार विकेट से मात दी थी.

शनिवार की जीत के बाद भी राजस्थान की हालत अंक तालिका में बहुत अच्छी नही है. उसने नौ में से केवल तीन मैच जीते है और छह हारे हैं. सुपर-4 की दौड़ से अभी भी वह बहुत दूर है.

ऐसे में स्टीव स्मिथ को कप्तान बनाकर अजिंक्य रहाणे को भी थोड़ा दबावमुक्त किया गया है जो अभी तक बल्लेबाज़ी में कोई ख़ास दम-ख़म नही दिखा पर रहे थे.

ये भी पढ़ेंः

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)