डिविलियर्स ने शमी को धुना, कोहली की मुस्कान बचाई

  • 25 अप्रैल 2019
इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption एबी डिविलियर्स और विराट कोहली

आईपीएल-12 में बीते बुधवार को एबी डिविलियर्स की पहले तो 82 रनों की शानदार पारी और उसके बाद उनके द्वारा पकड़े गए तीन शानदार कैच की मदद से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने अपने ही घर में खेलते हुए किंग्स इलेवन पंजाब को 17 रन से हरा दिया.

पंजाब के सामने जीत के लिए 203 रन जैसा बड़ा लक्ष्य था लेकिन वह निर्धारित 20 ओवर में सात विकेट खोकर 185 रन ही बना सकी.

पंजाब के सलामी बल्लेबाज़ क्रिस गेल ने 23, केएल राहुल ने 42, निकोलस पूरन ने 46 और डेविड मिलर ने 24 रन बनाए.

बैंगलोर के उमेश यादव ने 36 रन देकर तीन और नवदीप सैनी ने 33 रन देकर दो विकेट हासिल किए.

इमेज कॉपीरइट TWITTER@KL RAHUL 11
Image caption केएल राहुल

इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने निर्धारित 20 ओवर में चार विकेट खोकर 202 रन बनाए.

बैंगलोर के सलामी बल्लेबाज़ पार्थिव पटेल ने 43, एबी डिविलियर्स ने नाबाद 82 और मारकस स्टोइनिस ने भी नाबाद 46 रन बनाए.

एबी डिविलियर्स ने अपने 82 रन केवल 44 गेंदों पर तीन चौके और सात छक्कों की मदद से बनाए.

मारकस स्टोइनिस ने भी अपने ज़ोरदार नाबाद 26 रनों के लिए 34 गेंदों का सहारा लेते हुए दो चौके और तीन छक्के लगाए.

पंजाब के मोहम्मद शमी ने 53 रन देकर एक और हर्डस विलजोइन ने 51 रन देकर एक विकेट हासिल किया.

एबी डिविलियर्स ने जिस अंदाज़ में नाबाद 82 रनों की पारी खेली उसके बाद फ़िल्डिंग में भी अपने हाथ दिखाए.

उन्होंने क्रिस गेल, डेविड मिलर और निकोलस पूरन के कैच तब पकड़े जब वह धुंआधार बल्लेबाज़ी कर रहे थे.

बुधवार की जीत के बाद बैंगलोर पहली बार अंक तालिका में सबसे निचले पायदान आठवें से सातवें स्थान पर पहुंच गई है.

अब 11 मैचों के बाद चार जीत और सात हार के बाद उसके आठ अंक है.

दूसरी तरफ़ पंजाब 11 मैचों में पांच जीत छह हार और 10 अंको के साथ पांचवे स्थान पर है.

डिविलियर्स ने दिखाया अपना दम

और अब बात उन पलों की जिनमें एबी डिविलियर्स ने दिखाया कि क्यों वह दुनिया के दूसरे बल्लेबाज़ो से अलग है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption एबी डिविलियर्स

इससे पहले बैंगलूरू के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में मौजूद दर्शकों ने देखा कि एबी डिविलियर्स का बल्ला जब बोलता है तो कैसे अच्छे-अच्छे गेंदबाज़ो की बोलती भी बंद हो जाती है.

एबी डिविलियर्स वैसे तो बल्लेबाज़ी करने तब मैदान में उतरे जब बैंगलोर का स्कोर एक विकट खोकर 35 रन था.

तब कप्तान विराट कोहली 13 रन बनाकर मोहम्मद शमी की गेंद पर मिड ऑफ़ पर खड़े मंदीप को आसान सा कैच देकर आउट हो गए थे.

इसके बाद डिविलियर्स और पार्थिव पटेल ने बैंगलोर का स्कोर 71 रन तक पहुंचाया. इस स्कोर पर पार्थिव पटेल मुर्गन अश्विन का शिकार बने.

पार्थिव पटेल ने 24 गेंदों पर 43 रन बनाए.

लेकिन 81 रन तक पहुंचते-पहुंचते बैंगलोर के चार विकेट गिर गए.

पार्थिव पटेल के बाद मोईन अली 4 और अक्शदीप नाथ तीन रन बनाकर हर्डस विलजोइन का शिकार बन गए.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption पार्थिव पटेल

ऐसे मुश्किल हालात ने डिविलियर्स को साथ मिला मारकस स्टोइनिस का.

इन दोनो ने पहले तो संभलकर खेलना शुरू किया, और एक बार जमने के बाद पंजाब के गेंदबाज़ो पर हल्ला बोल दिया.

डिविलियर्स और स्टोइनिस ने आख़िरी दो ओवर में 48 रन जोडकर स्टेडियम में जैसे तूफ़ान ला दिया.

शमी के एक ओवर में 21 रन

19वां ओवर मोहम्मद शमी ने किया जिसमें डिविलियर्स ने तीसरी, चौथी और पांचवी गेंद पर ज़ोरदार छक्के लगाए.

शमी के इस ओवर में 21 रन बने.

पहले दो छक्के तो उन्होंने मिडऑफ़ पर लगाए लेकिन तीसरा छक्का बेहद मुश्किल था और सिर्फ़ डिविलियर्स ही इसे लगा सकते थे.

मोहम्मद शमी यार्कर करना चाहते थे लेकिन गेंद सीधे फ़ुलटॉस के रूप में पहुंची.

डिविलियर्स ऑफ़ स्टंप की तरफ़ झुकते हुए गए और गेंद जो कि सीधे उनके हैलमेट पर लगती नज़र आ रही थी उसे मिडविकेट की तरफ़ मोड़ दिया.

शॉट की टाइमिंग इतनी ज़बरदस्त थी कि गेंद सीधे बाउंड्री लाइन के बाहर जाकर गिरी.

उनके इस शॉट पर कमेंटेटर के मुंह से निकला कि डिविलियर्स के इसी अंदाज़ के कारण इन्हें मिस्टर 360 डिग्री कहा जाता है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption मारकस स्टोइनिस

20वां और आख़िरी ओवर हर्डस विलजोइन ने किया.

उनके इस ओवर में 27 रन बने.

लेकिन इस बार कमाल दिखाया स्टोइनिस ने.

उन्होंने इस ओवर की तीसरी गेंद पर चौक्का, चौथी गेंद पर छक्का, पांचवीं गेंद पर चौक्का और छठी गेंद पर छक्का लगाया.

वैसे इस ओवर की पहली गेंद पर स्ट्राइस डिविलियर्स के पास थी और उन्होंने भी पहली ही गेंद पर छक्का लगाया था.

इस तरह इन दो ओवर में बने 48 रन की मदद से डिविलियर्स और स्टोइनिस ने पांचवे विकेट के लिए केवल 68 गेंदों पर 121 रनों की नाबाद साझेदारी की.

डिविलियर्स 82 और स्टोइनिस 46 रन बनाकर नाबाद रहे.

अपनी शानदार पारी को लेकर डिविलियर्स ने कहा कि 10 रन के भीतर ही तीन विकेट गिरने के बाद हालात ख़राब हो गए थे.

तब लग रहा था कि यहां 160 रन काफ़ी होंगे लेकिन स्टोइनिस के साथ हुई साझेदारी ने बड़ा स्कोर खड़ा करने में मदद की.

लगातार तीन मैच जीतकर बैंगलोर ने अपने कप्तान विराट कोहली के चेहरे की मुस्कान को वापस लौटा दिया है.

बैंगलोर अभी भी अपने बचे हुए सारे मैच जीतकर भी प्लेऑफ़ में पहुंचेगी भी या नही यह अभी तय नही है लेकिन इतना तय है कि वह इस दौरान जिसे भी हराएगी उसका खेल ज़रूर बिगड़ेगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे