#IPL2019FINAL : मुंबई आईपीएल-12 की चैंपियन, एक रन से चेन्नई को हराया

  • 13 मई 2019
मुंबई की टीम इमेज कॉपीरइट ALLSPORT/Getty Images

मुंबई इंडियन्स ने चेन्नई सुपरकिंग्स को आईपीएल-12 के हैदराबाद में खेले गए रोमांचक फ़ाइनल मैच में एक रन से हरा दिया.

मुंबई की टीम ने चौथी बार आईपीएल की ट्रॉफी जीती है. आईपीएल-12 में मुंबई इंडियन्स ने चेन्नई सुपरकिंग्स के ख़िलाफ़ चार मैच खेले और हर बार जीत हासिल की. फ़ाइनल के पहले ये दोनों टीमें दो बार लीग राउंड में और एक बार प्लेऑफ में आमने-सामने आई थीं.

मुंबई इंडियंस ने फ़ाइनल में चेन्नई के सामने जीत के लिए 150 रन का लक्ष्य रखा था लेकिन चेन्नई की टीम 20 ओवर में सात विकेट पर 148 रन ही बना सकी.

मैच का स्कोर यहां देखें

चेन्नई के लिए शेन वॉटसन ने 80 रन बनाए. लेकिन उनकी पारी काम नहीं आई. वॉटसन आउट हुए तो चेन्नई जीत से चार रन दूर थी लेकिन आख़िरी दो गेंदों में चेन्नई की टीम सिर्फ़ दो रन ही बना सकी.

इमेज कॉपीरइट AFP / Getty Images

बुमराह मैन ऑफ द मैच

मुंबई के लिए जसप्रीत बुमराह ने 14 रन देकर दो विकेट लिए और वो मैन ऑफ द मैच चुने गए. मलिंगा, राहुल चाहर और क्रुणाल पांड्या ने एक-एक विकेट लिया.

कोलकाता नाइट राइट राइडर्स के शुभमन गिल सीज़न के इमर्जिंग प्लेयर चुने गए. सनराइजर्स हैदराबाद को फेयरप्ले अवॉर्ड मिला. मुंबई के केरोन पोलार्ड को बेस्ट कैच का अवॉर्ड मिला.

कोलकाता नाइट राइडर्स के आंद्रे रसेल को बेस्ट स्ट्राइक रेट का अवॉर्ड मिला.

ऑरेंज कैप सनराइजर्स हैदराबाद के डेविड वार्नर को मिला जिन्होंने 692 रन बनाए. पर्पल कैप टूर्नामेंट में 26 विकेट लेने वाले चेन्नई के इमरान ताहिर को मिली.

इमेज कॉपीरइट ALLSPORT/Getty Images

आख़िरी ओवर का रोमांच

चेन्नई को आख़िरी ओवर में जीत के लिए नौ रन बनाने थे. मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने गेंद लसित मलिंगा को थमाई. मलिंगा ने अपने तीसरे ओवर में 20 रन ख़र्च किए थे. क्रीज़ पर वॉटसन मौजूद थे जो ज़बरदस्त बल्लेबाज़ी कर रहे थे.

लेकिन मलिंगा ने दबाव में सटीक गेंदबाज़ी की और मैच की सूरत बदल दी.

उन्होंने 20वें ओवर की पहली गेंद यॉर्कर डाली. इस पर वॉटसन एक रन ले सके. दूसरी गेंद फुलटॉस थी जिस पर रविंद्र जडेजा ने एक रन लिया. तीसरी गेंद लेग स्टंप के बाहर डाली गई यॉर्कर थी जिस पर वॉटसन ने दो रन बनाए.

अब तीन गेंदों में पांच रन की दरकार थी. मलिंगा ने चौथी गेंद मिडल स्टंप पर डाली. ये भी यॉर्कर थी. वॉटसन ने इस पर दो रन लेने की कोशिश की और रन आउट हो गए.

उनकी जगह आए शार्दुल ठाकुर ने पांचवीं गेंद को बैकवर्ड स्क्वैयर की तरफ़ खेला और दो रन लिए.

अब चेन्नई को जीत के लिए दो रन बनाने थे. आख़िरी गेंद मलिंगा ने मिडिल स्टंप पर डाली. यह स्लो यॉर्कर थी. जो ठाकुर के पैड से टकराई और अंपायर ने उंगली उठा दी. मुंबई ने मैच एक रन से जीत लिया.

इमेज कॉपीरइट ALLSPORT/Getty Images

रोमांचक फ़ाइनल

फ़ाइनल मुक़ाबले में मुंबई और चेन्नई के बीच कड़ा मुक़ाबला हुआ. मैच का रुख़ कई बार बदला.

150 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरे चेन्नई के ओपनर फॉफ डू प्लेसी बड़ी पारी नहीं खेल सके. हालांकि, उन्होंने टीम को तेज़ शुरुआत दिलाई.

डू प्लेसी 13 गेंदों में 26 रन बनाकर क्रुणाल पांड्या का शिकार बन गए. डूप्लेसी ने क्रुणाल पांड्या के दूसरे ओवर की दूसरी और चौथी गेंद पर चौका जड़ा और तीसरी गेंद पर छक्का जमाया. लेकिन छठी गेंद पर वो स्टंप हो गए.

डू प्लेसी ने शेन वॉटसन के साथ पहले विकेट के लिए चार ओवर में 33 रन जोड़े. इसके बाद शेन वॉटसन ने सुरेश रैना के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 37 रन जोड़े.

इमेज कॉपीरइट ALLSPORT/Getty Images

नहीं चले रैना-रायुडू

चेन्नई की पारी के सातवें ओवर में मिचेल मैक्लाघन की गेंद पर अंपायर ने सुरेश रैना को आउट दे दिया. उस वक़्त रैना चार रन पर खेल रहे थे. उनके ख़िलाफ़ विकेटकीपर ने कैच की अपील की थी. लेकिन रैना ने रिव्यू लिया और वो नॉटआउट दिए गए.

रैना इसका ज़्यादा फ़ायदा नहीं उठा सके और आठ रन के निजी स्कोर पर आउट हो गए.

अंबाती रायुडू भी बड़ी पारी नहीं खेल सके. वो चार गेंद में सिर्फ़ एक रन बनाकर जसप्रीत बुमराह का शिकार बन गए. तीसरा विकेट गिरा तो चेन्नई का स्कोर था 73 रन.

इमेज कॉपीरइट ALLSPORT/Getty Images

मैच का टर्निंग प्वाइंट

चेन्नई के स्कोर में नौ रन और जुड़े थे कि कप्तान महेंद्र सिंह धोनी दो रन के निजी स्कोर पर रन आउट हो गए. ये एक तरह से मैच का बड़ा टर्निंग प्वाइंट रहा.

धोनी ने मैच के 13वें ओवर में ओवर थ्रो पर एक अतिरिक्त रन लेने की कोशिश की और ईशान किशन ने सीधे थ्रो से गिल्लियां उड़ा दीं. तीसरे अंपायर ने लंबे वक़्त तक रीप्ले देखने के बाद धोनी को आउट दिया. धोनी ने आठ गेंदों का सामना किया.

चौथा विकेट गिरा तो चेन्नई का स्कोर 82 रन था. मुश्किल में घिरी चेन्नई टीम को वॉटसन ने सहारा दिया. उन्होंने ब्रावो के साथ मिलकर अहम साझेदारी की और 44 गेंदों पर हाफ़ सेंचुरी पूरी कर ली. वॉटसन जब 55 रन पर थे तो बुमराह की गेंद पर चाहर ने उनका आसान कैच टपका दिया.

आख़िरी तीन ओवरों में चेन्नई को जीत के लिए 38 रन बनाने थे. मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने गेंद क्रुणाल पांड्या को थमाई. वॉटसन ने क्रुणाल के ओवर में तीन छक्के जमाए. इस ओवर में 20 रन बने. आख़िरी दो ओवरों में चेन्नई को 18 रन बनाने थे.

19वें ओवर की दूसरी गेंद पर बुमराह ने ब्रावो आउट कर दिया. उन्होंने 15 गेंदों पर 15 रन बनाए. बुमराह ने इस ओवर में नौ रन दिए.

आखिरी ओवर में चेन्नई को जीत के लिए नौ रन बनाने थे. जीत से चार रन पहले वॉटसन रन आउट हो गए और चेन्नई की टीम लक्ष्य से एक रन दूर रह गई.

इमेज कॉपीरइट ALLSPORT/Getty Images

मुंबई ने बनाए 149 रन

इसके पहले मुंबई ने 20 ओवर में आठ विकेट पर 149 रन बनाए.

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी के लिए उतरी मुंबई टीम का कोई खिलाड़ी बड़ी पारी नहीं खेल सका. अपना 33वां जन्मदिन मना रहे केरोन पोलार्ड मुंबई के टॉप स्कोरर रहे. उन्होंने 25 गेंदों पर नाबाद 41 रन बनाए. बाकी बल्लेबाज़ शुरुआत को बड़े स्कोर में नहीं बदल सके.

क्विंटन डि कॉक ने 29 और ईशान किशन ने 23 रन बनाए. चेन्नई के लिए दीपक चाहर ने तीन विकेट लिए. शार्दुल ठाकुर और इमरान ताहिर ने दो-दो विकेट लिए. इमरान ताहिर 26 विकेट के साथ टूर्नामेंट के सबसे कामयाब गेंदबाज़ साबित हुए.

मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने क्विंटन डि कॉक के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 4.5 ओवरों में 45 रन जोड़े.

दीपक चाहर ने मैच का पहला ओवर डाला. इसमें सिर्फ़ दो रन बने लेकिन दूसरे ओवर से मुंबई के ओपनरों ने रफ़्तार पकड़ ली. शार्दुल ठाकुर के पहले ओवर में आठ और चाहर के दूसरे ओवर में 20 रन बने.

इमेज कॉपीरइट ALLSPORT/Getty Images

कड़ा मुक़ाबला

तेज़ गेंदबाजों की पिटाई के बाद कप्तान धोनी ने चौथे ही ओवर में गेंद स्पिनर हरभजन सिंह को थमा दी.

मैच के पांचवें ओवर में शार्दुल ठाकुर ने चेन्नई को पहली कामयाबी दिलाई. उन्होंने क्विंटन डि कॉक को आउट किया. डि कॉक ने 17 गेंदों में 29 रन बनाए. इनमें चार छक्के शामिल रहे.

अगले ओवर में चाहर ने मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा को पैवेलियन भेज दिया. रोहित ने 14 गेंदों पर 15 रन बनाए. मुंबई का तीसरा विकेट सूर्यकुमार यादव के रूप में गिरा. उन्हें इमरान ताहिर ने आउट किया. यादव ने 17 गेंदों में 15 रन बनाए. उन्होंने ईशान किशन के साथ मिलकर 37 रन जोड़े.

क्रुणाल पांड्या भी बड़ी पारी नहीं खेल सके. वो 13वें ओवर में सिर्फ़ सात रन बनाकर शार्दुल ठाकुर का दूसरा शिकार बने.

इमेज कॉपीरइट ALLSPORT/Getty Images

पोलार्ड पावर

15वें ओवर में इमरान ताहिर ने ईशान किशन को आउट किया. उन्होंने 26 गेंदों पर 23 रन बनाए. पांचवां विकेट गिरा तो मुंबई का स्कोर था 14.4 ओवर में 101 रन.

इसके बाद केरोन पोलार्ड ने हार्दिक पांड्या के साथ मिलकर पलटवार शुरू किया. इन दोनों ने छठे विकेट के लिए 39 रन जोड़े. हार्दिक पांड्या 19वें ओवर में दीपक चाहर की गेंद पर आउट हुए. उन्होंने 10 गेंद पर 16 रन बनाए. इसी ओवर में राहुल चाहर भी आउट हो गए. वो खाता भी नहीं खोल सके. 19वें ओवर में दीपक चाहर ने सिर्फ़ चार रन दिए.

मुंबई को आठवां झटका मिचेल मैक्लाघन के रूप में लगा. वो खाता खोले बिना रन आउट हो गए. चेन्नई की ओर से 20वां ओवर ड्वेन ब्रावो ने डाला. इस ओवर में उन्होंने 9 रन दिए.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मुंबई की टीम: रोहित शर्मा (कप्तान), क्विंटन डि कॉक (विकेटकीपर), सूर्यकुमार यादव, ईशान किशन, हार्दिक पांड्या, क्रुणाल पांड्या, केरोन पोलार्ड, मिचेल मेक्लघन, राहुल चाहर, लसित मलिंगा और जसप्रीत बुमराह

चेन्नई की टीम: महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान-विकेटकीपर), शेन वॉटसन, फॉफ डू प्लेसी, सुरेश रैना, अंबाती रायुडू, ड्वेन ब्रावो, रविंद्र जडेजा, दीपक चाहर, हरभजन सिंह, इमरान ताहिर और शार्दुल ठाकुर

IPL फ़ाइनलः चेन्नई vs मुंबई, कौन कितना भारी

चेन्नई के बूढ़े शेर युवा दिल्ली पर कैसे पड़े भारी

क्या अंपायर की ग़लती से हार गए कोहली?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार